अच्छे व्यक्ति को समझने के लिए अच्छा हृदय चाहिये न कि अच्छा दिमाग

सुधार करें, बहाने नहीं। सम्मान की चाह रखें, न कि आकर्षण की। गलतियां सुधारी जा सकती है,गलतफहमियां भी सुधारी जा सकती है,लेकिन गलत धारणाएं कभी सुधारी नही जा सकती। बुरा समय आपको आपके जीवन के उन सत्यो से सामना करवाता है, जिनकी आपने अच्छे समय मे कभी कल्पना भी नही की होती है।

सच्चा स्नेह करने वाला केवल आपको बुरा बोल सकता है पर कभी आपका बुरा नहीं कर सकता क्योंकि उसकी नाराजगी में आपकी फिक्र और दिल में आपके प्रति सच्चा स्नेह होता है। अच्छे व्यक्ति को समझने के लिए अच्छा हृदय चाहिये न कि अच्छा दिमाग क्योंकि दिमाग हमेशा तर्क करेगा और हृदय हमेशा प्रेम–भाव देखेगा।

लगन व्यक्ति से वो करवा लेती है,जो वह नहीं कर सकता ! साहस व्यक्ति से वो करवाता है जो वह कर सकता है किन्तु अनुभव व्यक्ति से वही करवाता है,जो वास्तव में उसे करना चाहिये।

आप दूसरों के व्यवहार को नियंत्रित नहीं कर सकते, लेकिन आप हमेशा यह चुन सकते हैं कि आप इस पर क्या प्रतिक्रिया देते हैं। बिंदी एक रुपये में आती है,और ललाट पर लगाई जाती है,पायल की क़ीमत हजारों रुपये में होती है फिर भी पैर में पहनी जाती है,इन्सान अपने कर्म से सम्मानीय होता है,धन और दौलत से नहीं।

दोस्तों अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आए तो लाइक और कमेंट करना ना भूलें क्योंकि हम जिंदगी के बारे में इसी तरह के सकारात्मक विचार लाते रहेंगे। दोस्तों इसी तरह की पोस्ट आगे भी पाने के लिए हमें फॉलो जरूर करें धन्यवाद।

Comments are closed.