जीवन की आधी उम्र तक पैसा कमाया, बाकी आधी उम्र तक उसी पैसे को शरीर ठीक करने में लगाया

अच्छी सोच वाले लोग और अच्छे किरदार हमेशा याद रहते है

जिंदगी क्या है ? जीवन की आधी उम्र तक पैसा कमाया , पैसा कमाने में इस शरीर को खराब किया , बाकी आधी उम्र तक उसी पैसे को शरीर ठीक करने में लगाया और अंत में ना शरीर बचा ना पैसा इसी का नाम तो जिंदगी है।

84 लाख जीवों में एक मानव ही है जो धन कमाता है और अन्य कोई जीव कभी भूखा भी नहीं मरा और मानव का कभी पेट भी नहीं भरा। हमेशा खुश रहना चाहिए क्योंकि परेशान रहने से कल की मुश्किल दूर नहीं होती बल्कि आज का सुकून भी चला जाता है। घर में स्त्री सबका मन रखती है लेकिन पता नहीं क्यों सब भूल जाते हैं की वो स्त्री भी एक मन रखती है। अच्छी सोच वाले लोग और अच्छे किरदार हमेशा याद रहते है।

ये जो आपकी और हमारी जिंदगी है ये बहुत सस्ती है बस इसे गुज़ारने के तरीके महँगे है। एक समर्थ व्यक्ति के पीछे उसके कई समर्थ साथी भी होते हैं और आपको उन्ही समर्थ व्यक्तियों को खोजकर उनके साथ रहना है। वक़्त का काम तो गुजरना है बुरा हो तो सब्र कीजिये और अच्छा हो तो शुक्र कीजिये। साथ रहकर जो छल करे उससे बड़ा कोई शत्रु नहीं हो सकता और जो हमारे मुँह पर हमारी बुराइयाँ बता दे उससे बड़ा कोई मित्र नहीं हो सकता। लाइफ में दो लोगो से हमेशा दूर रहिएगा पहला बिज़ी और दूसरा घमंडी क्योंकि बिज़ी आदमी अपनी मर्ज़ी से बात करेगा और मतलबी अपने मतलब से याद करेगा।

दोस्तों अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आए तो लाइक और कमेंट करना ना भूलें क्योंकि हम जिंदगी के बारे में इसी तरह के सकारात्मक विचार लाते रहेंगे। दोस्तों इसी तरह की पोस्ट आगे भी पाने के लिए हमें फॉलो जरूर करें धन्यवाद।

Comments are closed.