पांच साल की मासूम बच्ची अपने ही पिता के अवैध संबंधों की बलि चढ़ गई, खून और पैरों के निशान से पकड़ी गई प्रेमिका

 Woman Kills Lovers Daughter With The Help Of Her Brothers In Jaipur Rajasthan - Sakshi Samachar
  • जाह्नवी के पिता से शादी करना चाहती थी एकता
  • एकता लेना चाहती थी प्रेमी संजय की पत्नी से बदला
  • खून और पैरों के निशान से पकड़ी गई संजय की प्रेमिका
  • तीन साल से चल रहा था शादीशुदा मर्द से एकता का अफेयर

जयपुर : जयपुर से  एक दिलदहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक पांच साल की मासूम बच्ची अपने ही पिता के अवैध संबंधों की बलि चढ़ गई। मृतक बच्ची की पहचान जाह्नवी (5) के रूप में हुई है। बच्ची की हत्या का उसके  पिता संजय की प्रेमिका एकता ने ही अपने भाइयों के साथ मिलकर की। आरोपी एकता पहले जाह्नवी के सिर पर रॉड मारा फिर बोरे से मुंह दबा दिया। जब बच्ची के प्राण उसके शरीर से निकले तो उसे बोरे में भरकर दो मकानों के बीच सीवर लाइन में फेंक दिया। पुलिस ने एकता और उसके दो भाइयों को गिरफ्तार कर लिया है।

कैसे हुआ खुलासा ?
पुलिस टीम ने 500 लोगों से पूछताछ की। एफएसएल टीम व डॉग स्क्वायड की मदद लेकर पुलिस ने वारदात का खुलासा किया। एफएसएल टीम ने घटना स्थल से लिए गए ब्लड सैंपल व फुट प्रिंट की रिपोर्ट सौंपी। एक्सपर्ट की मदद से फुट प्रिंट मैच किए तो वह आरोपियों के निकले। पुलिस ने हत्या में प्रयोग किया रॉड बरामद कर ली है।

संजय से शादी के लिए एकता ने बना रखा था यह प्लान
एकता ने प्लान बना रखा था कि  वह जाह्नवी की हत्या का आरोप किसी तरह अनिता पर लगा और खुद संजय से शादी कर ले। अगले दिन जब बच्ची के लाश मिली तो एकता जाह्नवी की मां अनिता के घर जाकर उसे दिलासा देने लगी। इस दौरान उसके दोनों भाई भी वहीं मौजूद रहे। इतना सबकुछ हो जाने के बावजूद भी आरोपियों के चेहरे पर जरा सी भी सिकन नहीं दिखाई दे रही थी। इस दरम्यान पुलिस को उनके खिलाफ कुछ जानकारी मिली। लेकिन पूछताछ मे तीनों घटना से अनजान बने रहे और अलग-अलग कहानियां सुनाकर गुमराह करते रहे। पुलिस टीम ने 500 लोगों से पूछताछ की।

क्या है मामला
जाह्नवी के पिता संजय और एकता के बीच तीन साल से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। इस बात की जानकारी संजय की पत्नी अनिता को भी थी। अनीता को जब दोनों के अफेयर का पता चला तो दोनों में झगड़ा होना शुरू हो गया। एकता ने  दोनों के बीच हो रहे झगड़े की वजह से बदला लेने की ठान ली और उसने जाह्नवी की हत्या कर दी। इस बात की जानकारी  एडिशनल कमिश्नर अशोक गुप्ता ने दी। उन्होंने बताया कि पूछताछ में सामने आया 4 अप्रैल को शाम छह बजे से पहले ही एकता ने जाह्नवी की हत्या कर दी थी और शव रसोई में छिपा दिया। बाद में रात में भाइयों के साथ मिलकर शव को फेंक दिया।

Comments are closed.