बड़ी बहन को दरिंदे ने बनया अपनी हवस का शिकार, छोटी बहन कड़ी देखती रही

हैदराबाद: दिशा रेप व हत्याकांड के बाद भी हैदराबाद में बलात्कार के मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे। हाल ही में ऐसा ही एक मामला देर से सामने आया है जिसमें छोटी बहन को जान से मारने की धमकी देकर उसके सामने ही बड़ी बहन को दरिंदे ने अपनी हवस का शिकार बनाया।

इसी महीने की 8 तारीख को घटी यह घटना देर से पता चली है। चंद्रायणगुट्टा पुलिस द्वारा बताए विवरण के अनुसार गत रविवार को चारमीनार जाने के लिए दो बहनें बड़ी बहन (18) और छोटी बहन (10) हश्माबाद के पास आटो का इंतजार कर रही थी।

इन दोनों पर आटो ड्राइवर मोहम्मद आमिर की नजर पड़ी। वह इनके पास आया तो दोनों बहनों ने उससे पूछा कि क्या वह उन्हें चारमीनार और फिर जहांगीर पीर दरगाह लेकर जा सकता है। उसने पहले तो दोनों को अपने आटो में बिठा लिया फिर उनको बहला-फुसलाकर कहा कि अभी शाम हो गई है तो वह उन्हें सुबह दरगाह लेकर जाएगा। ऐसा कहकर वह दोनों को अपने घर ले गया।

घर वालों ने जब इन दोनों को घर लाने का विरोध किया और दोनों को छोडकर आने को कहा तो आमिर के भाई मूसा ने कहा कि वह दोनों को नामपल्ली रेलवे स्टेशन छोड़कर आ जाएगा। ऐसा कहकर वह दोनों को अपनी बाइक पर बिठाकर ले गया। नामपल्ली पर आकर उसने स्थानीय होटल ग्रैंड में ओयो रूम बुक किया और फिर छोटी बहन को जान से मारने की धमकी देकर बड़ी बहन से बलात्कार किया।

इसके बाद वह दोनों को उप्पुगुड़ा रेलवेस्टेशन पर छोड़कर चला गया। दूसरी ओर लड़कियों के घर में दोनों बहनों के गायब होने से कोहराम मच गया। घर वालों ने 8 तारीख को पुलिस स्टेशन में दोनों की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाई।

वहीं चंद्रायणगुट्टा रेलवे स्टेशन पर दोनों बहनों को परेशान देखकर पुलिस स्टेशन में सूचित किया। पुलिस ने जब दोनों से पूछताछ की तो बलात्कार की बात पता चली।

पुलिस ने नामपल्ली के होटल जाकर पूछताछ की तो पता चला कि ओयो रूम बुक करने के लिए आरोपी ने फर्जी कार्ड का सहारा लिया। पुलिस ने मामला दर्ज करके आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

Comments are closed.