बीसीसीआई के सामने आईपीएल की मेजबानी की पेशकश, ये देश करना चाहता है मेजबानी

यूएई में आईपीएल के आयोजन पर बोर्ड का बड़ा बयान, कहा- बीसीसीआई...

कोरोना वायरस (Coronaviurs) ने कारण पूरी दुनिया में भारी तबाही मची हुई है. इस खतरनाक महामारी ने सब कुछ ठप्‍प कर दिया है. करोबार बंद हो गए हैं. खेल के मैदान सूने हो गए. हर देशों को बेहिसाब नुकसान हो रहा है. खेल की बात करें तो बाकी खेलों की तरह क्रिकेट पर भी वायरस का बड़ा असर हुआ है. कई बोर्ड कंगाली की कगार पर पहुंच गए हैं. कोरोना के कारण दुनिया की सबसे बड़ी टी20 लीग्‍स में से एक आईपीएल को भी अश्विनकाल तक के लिए टाल दिया गया है और आईपीएल रद्द होने पर बीसीसीआई (BCCI) को करीब चार हजार करोड़ का नुकसान हो सकता है.

हालांकि कुछ दिन पहले खबर आई थी कि आईपीएल (IPL) को देश से बाहर कराया जा सकता है. इसी बीच अमीरात क्रिकेट बोर्ड ने इसकी पुष्टि की है कि अगर भारत इस साल कोरोना वायरस महामारी के कारण आईपीएल विदेश में करने का फैसला लेता है तो वो इसकी मेजबानी करना चाहते हैं. आईपीएल का 13वां सत्र मार्च के आखिर में शुरू होना था, लेकिन कोरोना महामारी के कारण अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया. ऐसी अटकलें हैं कि ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप नहीं होने पर बीसीसीआई अक्टूबर में इसका आयोजन कर सकता है.

बीसीसीआई के सामने आईपीएल की मेजबानी की पेशकश

‘गल्फ न्यूज’ की एक रिपोर्ट के अनुसार यूएई क्रिकेट बोर्ड ने बीसीसीआई के सामने आईपीएल की मेजबानी की पेशकश की है. बोर्ड के महासचिव मुबाशशिर उस्मानी के हवाले से खबर में कहा गया कि अतीत में अमीरात क्रिकेट बोर्ड आईपीएल की सफल मेजबानी कर चुका है. हम द्विपक्षीय और बहुराष्ट्रीय क्रिकेट टूर्नामेंटों की पहले भी मेजबानी कर चुके हैं. उन्होंने कहा कि अमीरात क्रिकेट बोर्ड ने इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड को भी सत्र के बाकी मैच यहां कराने का प्रस्ताव दिया था. उन्होंने कहा कि हमने इंग्लैंड और भारत दोनों के सामने प्रस्ताव रखा है. अगर दोनों में से कोई भी बोर्ड इसे स्वीकार करता है तो हमें खुशी होगी. श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने भी आईपीएल की मेजबानी में दिलचस्पी दिखाई है. आईसीसी टी20 विश्व कप को लेकर दस जून को बोर्ड बैठक में फैसला लेगा जिसके बाद ही आईपीएल के आयोजन की तस्वीर साफ हो सकेगी.

Comments are closed.