भारतीय क्रिकेटर्स की भाई-बहन की कुछ ऐसी जोड़ी जिसमे एक सफल हुआ जबकि दूसरा फ्लॉप

अब तक भारत की तरफ से क्रिकेट के खेल में भाइयों की कई जोड़ियां खेल चुकी हैं। इरफान पठान और यूसुफ पठान की जोड़ी को तो बहुत ही ज्यादा पसंद किया जाता हैं। भारत की तरफ से खेलने वाली महिला क्रिकेटरों ने भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत का नाम रोशन किया हैं। आज की इस पोस्ट में हम आपको भारतीय क्रिकेटर्स की भाई-बहन की कुछ ऐसी जोड़ियों के बारे में बताने वाले हैं। इनमें से एक सफल हुआ जबकि दूसरा फ्लॉप। आइए जानते हैं उनके बारे में

3- स्मृति मंधाना और श्रवण मंधाना

स्मृति मंधाना को तो आप जानते ही होंगे। स्मृति मंधाना ने भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया। बता दें कि स्मृति मंधाना ने अपने भाई को देखकर ही क्रिकेट खेलना शुरू किया था। स्मृति मंधाना के भाई ने महाराष्ट्र तरफ से क्रिकेट खेला। लेकिन वह अपनी बहन की तरह क्रिकेट में ज्यादा सफलता हासिल नहीं कर पाए।

2- वाशिंगटन सुंदर और मनीसुंदर शैलजा

वाशिंगटन सुंदर भारत की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में अपनी एक अलग जगह बना चुके हैं। बता दें कि वाशिंगटन सुंदर की बहन मनीसुंदर शैलजा ने तमिलनाडु की ओर से 4 टी-20 मुकाबले खेलें। वो दाएं हाथ की बल्लेबाज हैं। लेकिन मनीसुंदर शैलजा अपने भाई वाशिंगटन सुंदर की तरह क्रिकेट में सफलता हासिल नहीं कर पाई और फ्लॉप हो गई।

1- पवन नेगी और बबीता रहेगी

पवन नेगी ने दिल्ली की तरफ से खेलते हुए आईपीएल में धमाल मचाया। लेकिन उनकी बहन बबिता का क्रिकेट करियर कुछ खास नहीं रहा। हालांकि पवन नेगी की बहन बबिता वर्तमान में इंडिया रेलवे में बतौर सीनियर क्लर्क काम कर रही है। पवन नेगी आईपीएल में सफल रहे। उन्होंने आईपीएल में 50 मैचों में 27 की औसत से 34 विकेट हासिल किए हैं।

Comments are closed.