भारत में कोरोना वायरस की दस्तक, चाइना से भारत लौटे छात्र में पाया गया संक्रमण

कोरोना वायरस ने भारत में दी दस्तक, इस शहर में वायरस के संक्रमण का पहला मामला आया सामने

 
 

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण से संक्रमित होने के पहला मामला सामने आया है, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने पुष्टि की कि चीन के वुहान से केरल वापस लौटे हुए एक छात्र में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है ।
“वुहान विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले एक छात्र में कोरोना वायरस संक्रमण पाए जाने का पहला मामला सामने आया है। यह मामला केरल का है । स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि मरीज में कोरोना वायरस के संक्रमण का टेस्ट किया गया और जांच में पॉजिटिव पाया गया है।

 
 

केरल के स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि महिला छात्र की हालत स्थिर है और उन के स्वास्थ का उचित ख्याल रखा जा रहा है । केरल के स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने आज एक आपात बैठक बुलाई है।
इस बीच, दिल्ली के राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) अस्पताल में भर्ती तीन रोगियों को गुरुवार को कोरोना वायरस के परीक्षण में नेगेटिव पाए जाने के बाद उन्हें छुट्टी दे दी है । सोमवार से इन तीन लोगों को सांस की बीमारियों की शिकायत के बाद कोरोना वायरस के संदेह में चिकित्सा उपचार के लिए राम मनोहर लोहिया अस्पताल में दाखिल किया गया था।
“तीनों मरीज की आयु क्रमशः 24, 34 और 48 वर्ष की हैं। अस्पताल में चिकित्सा अधीक्षक डॉ मीनाक्षी भारद्वाज ने कहा कि एक मरीज पढ़ने के लिए , जबकि अन्य दो चीन में व्यापार कार्य के लिए गए थे जो अब वापस लौट आए हैं।

 
 

वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर, केंद्र सरकार ने बुधवार को एक महत्वपूर्ण यात्रा सलाह जारी किया, जिसमें लोगों को चीन की यात्रा करने से परहेज करने के लिए कहा गया।
भारत ने अब तक कोरोना वायरस के घातक संक्रमण के 28 नमूनों का परीक्षण किया है। कोरोना वायरस का पहला मामला एक चीनी शहर वुहान में पाया गया था जिस की आवादी १ करोड़ से अधिक है और अब यह वायरस दुनिया भर के विभिन्न देशों में फैल रहा है।

 
 

कोरोना वायरस से अब तक 170 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि अकेले चीन में 1700 से अधिक मामले इस वायरस के संक्रमण के दर्ज किए गए हैं। ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, संयुक्त राष्ट्र अमेरिका और चीन के अलावा कई एशियाई देशों में इस बिमारी का वायरस फैल रहा है, दुनिया भर के प्रमुख स्वास्थ्य संस्थाएं इस महामारी को रोकने का रास्ता ढूंढ़ रहे हैं
कोरोना वायरस, एक ख़ास तरह का वायरस है जो सामान्य सर्दी से लेकर रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (MERS-CoV) और एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (SARS-CoV) का कारण बनता है।पूरे विश्व में इस से पहले कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ का कोई मामला सामने नहीं आया था.

Comments are closed.