मिटटी भी जमा की और खिलौने भी बनाकर देखे, जिन्दगी कभी न मुस्कुराइ बचपन की तरह

मिटटी भी जमा की और खिलौने भी बनाकर देखे,

जिन्दगी कभी न मुस्कुराइ बचपन की तरह !!

एक बच्चा भगवान की राय है,

की दुनिया चलती रहनी चाहिए !!

यह नियम बना लीजिये,

कभी किसी बच्चे को

वो किताब नहीं दीजिये,

जो आप खुद नहीं पढेंगे !!

यदि हम स्थायी शांति

स्थापित करना चाहते है तो,

हमें बच्चों के साथ

शुरुआत करनी होगी !!

दोस्तों आपको हमारी प्रेरणादायक बातें पसंद आई है तो कम से कम एक लाइक और कमेंट जरूर करें। इस आर्टिकल को अपने दोस्तों में ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। साथ ही साथ हर रोज़ प्रेरणादायक बातें पढ़ने के लिए फॉलो करना न भूलें। धन्यवाद

Comments are closed.