हम उस ऊंचाई पर हे जहा तुम्हारे सर से ज्यादा उंचाई पर हमारे पांव रहते हे

पिता:अगर तू फिर परीक्षा में फेल हुआ तो मुझे पापा मत बोलना

रिजल्ट के बाद

पिता:तुम्हारा रिजल्ट कैसा रहा?

पुत्र:दिमाग खराब मत कर मदनलाल तूने बाप होने का हक खो दिया है।

————-

शाम को पति के घर आते ही पत्नी ने किच-किच शुरू कर दी

परेशान पति:अरे यार दिनभर का थका हारा आया हूं, पहले फ्रेश तो होने दो

पत्नी:मैं भी तो दिनभर अकेली थी

तो मैं भी फ्रेश ही हो रही हूं।

————–

c

Comments are closed.