IND VS ENG: जसप्रीत बुमराह को 9 विकेट लेने के बावजूद नहीं मिला मैन ऑफ द मैच, जानिए वजह

 नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड के बीच पहला टेस्ट मैच (India vs England, 1st Test) ड्रॉ हो गया. भारतीय टीम चौथे दिन के खत्म होने तक इस मैच को जीतने की फेवरेट थी लेकिन पांचवें दिन बारिश के कारण एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी और अंत में मैच ड्रॉ पर खत्म हुआ. भारतीय टीम ने पहली पारी में इंग्लैंड को 183 रनों पर ढेर करने के बाद 95 रनों की बढ़त हासिल की. इसके बाद इंग्लैंड को उसने दूसरी पारी में 303 रन पर समेटा और उसे 209 रनों का लक्ष्य मिला. चौथे दिन तक भारत ने 1 विकेट खोकर 52 रन बना लिये थे और उसे जीत के लिए सिर्फ 157 रनों की दरकार थी लेकिन बारिश ने टीम इंडिया की उम्मीदों पर ही पानी फेर दिया. वैसे टीम इंडिया से जीत तो छिन ही गई लेकिन उसके बाद मैन ऑफ द मैच के बड़े दावेदार जसप्रीत बुमराह  (Jasprit Bumrah) को भी ये अवॉर्ड नहीं मिला. इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) को मैन ऑफ द मैच चुना गया.

जो रूट (Joe Root) ने पहली पारी में अर्धशतक और दूसरी पारी में शतक ठोका था. रूट ने 64 और 109 रनों की पारियां खेली. वहीं जसप्रीत बुमराह  (Jasprit Bumrah) ने मैच में कुल 9 विकेट अपने नाम किये. पहली पारी में उन्होंने 4 और दूसरी पारी में 5 विकेट अपने नाम किये. अब सवाल ये है कि जसप्रीत बुमराह को इतने बेहतरीन प्रदर्शन के बावजूद मैन ऑफ द मैच क्यों नहीं मिला?

जसप्रीत बुमराह को क्यों नहीं मिला मैन ऑफ द मैच?
दरअसल नॉटिंघम की पिच गेंदबाजों के मुफीद थी और यहां रन बनाना थोड़ा कठिन था. बल्लेबाजों को क्रीज पर सेट होने में मुश्किल हो रही थी लेकिन इसके बावजूद इंग्लैंड के कप्तान ने दोनों पारियों में अपनी टीम के लिए टॉप स्कोर किया. इंग्लैंड ने पहली पारी में महज 183 रन बनाए जिसमें से 64 रनों का योगदान रूट ने दिया. वहीं दूसरी पारी में भी इंग्लैंड का कोई दूसरा बल्लेबाज 40 के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाया जबकि रूट ने उसमें 109 रनों की कमाल पारी खेली. यही वजह है कि जो रूट को मैन ऑफ द मैच चुना गया. वैसे जसप्रीत बुमराह का अच्छा प्रदर्शन करना टीम इंडिया के लिए बेहद राहत की खबर है क्योंकि पिछली तीन टेस्ट पारियों में वो एक भी विकेट हासिल नहीं कर पाए थे.