Gold Price: खुशखबरी! 4 महीने के निचले स्तर के करीब आया सोने का भाव, जानें नए रेट्स

 Gold/Silver Price Today: अगर आप सोना (Gold) खरीदने का प्लान बना रहे हैं तो आपके लिए यह अच्छा मौका है. भारतीय बाजारों में सोने का भाव (Gold Price Today) का गिरकर करीब 4 महीने के निचले स्तर पर आ गया है. मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) पर सोने का दाम 46,000 रुपए प्रति 10 ग्राम फिसलने के बाद 4 महीने के निचले स्तर पर पहुंच गई. बुधवार को एमसीएक्स (MCX) पर अक्टूबर वायदा सोना का भाव 0.15 फीसदी प्रति 10 ग्राम की बढ़ोतरी के साथ कारोबार कर रहा है. हालांकि, सितंबर वायदा चांदी की कीमत में 0.14 फीसदी की गिरावट आई है.

सोने का नया दाम (Gold Price): MCX पर अक्टूबर वायदा सोने का दाम 0.15 फीसदी यानी 68 रुपए की तेजी के साथ 46,030 रुपए प्रति 10 ग्राम पर कारोबार कर रहा है. पिछले तीन ट्रेडिंग सेशन में एमसीएक्स पर सोने का वायदा भाव में 1.3 फीसदी गिरावट आई है.

चांदी की नई कीमत (Silver Price): वहीं, सितंबर वायदा चांदी की कीमत 0.14 फीसदी यानी 86 रुपए की गिरावट के साथ 62,550 रुपए प्रति किलोग्राम हो गई. पिछले तीन सत्रों में चांदी की कीमत 1.5 फीसदी से ज्यादा टूटी है.

कमोडिटी एक्सपर्ट्स के मुताबिक, पीली धातु की कीमतों में यह गिरावट मजबूत अमेरिकी डॉलर और अमेरिकी नौकरी के आंकड़ों के कारण आई है. हालांकि, उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सोने की कीमत को 1,680 डॉलर प्रति औंस पर मजबूत सपोर्ट है.

सर्राफा बाजार में भाव

बता दें कि मंगलवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 176 रुपए की गिरावट के साथ 45,110 रुपए प्रति दस ग्राम के स्तर पर बंद हुआ. सोमवार को सोना 45,286 के स्तर पर बंद हुआ था. इंटरनेशनल मार्केट में पिछले चार कारोबारी सत्रों से इसकी कीमत पर दबाव बना हुआ है.

वहीं, दिल्ली सर्राफा बाजार में चांदी 898 रुपए की गिरावट के साथ 61,765 रुपए प्रति किलोग्राम के स्तर पर बंद हुई. इससे पिछले कारोबारी सत्र में यह 62,663 रुपए के स्तर पर बंद हुई थी.

13 अगस्त तक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश का मौका

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bond) योजना 2021-22 – सीरीज पांच – 9 अगस्त से 13 अगस्त तक के लिये खोली गयी है. निपटान तिथि 17 अगस्त, 2021 है. आवेदन अवधि के दौरान बांड का निर्गम मूल्य 4,790 रुपये प्रति ग्राम तय किया गया है. गोल्ड बॉन्ड की कीमत बाजार में सोने की हाजिर कीमत से जुड़ी होती है. इसमें निवेश पर ब्याज के रूप में अतिरिक्त रिटर्न मिलता है. देश का नागरिक, हिंदू अविभाजित परिवार ट्रस्ट, यूनिवर्सिटी और चैरिटेबल संस्थान इसमें निवेश कर सकते हैं. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम ऐसे निवेशकों के लिए अच्छा है, जो फिजिकल गोल्ड में निवेश नहीं करना चाहते हैं.