अब इस मोबाइल ऐप से दुनियाभर में बसे भारतीय 15 अगस्‍त को मनाएंगे आजादी का 75वां जश्‍न, जानिए सबकुछ

 15 अगस्‍त वो दिन है जब देश की आजादी का 75वां जश्‍न मनाया जाएगा. इस मौके देश के अलग-अलग हिस्‍सों में जश्‍न मनाया जाएगा. इस जश्‍न को ‘आजादी का अमृत महोत्‍सव’ नाम दिया गया है. पूरा देश जहां देशभक्ति के रंग में डूबा हुआ है और दूसरे देशों में बसे देशवासी भी इस जश्‍न का हिस्‍सा बनेंगे. इस मौके पर रक्षा मंत्रालय की तरफ से एक खास वेबसाइट VRलॉन्‍च की गई है. इस वेबसाइट के जरिए आजादी के जश्‍न मनाया जाएगा.

कार्यक्रम की होगी लाइव स्‍ट्रीमिंग

पिछले दिनों रक्षा सचिव डॉक्‍टर अजय कुमार ने इस खास वेबसाइट को लॉन्‍च किया है. इस वेबसाइट का मकसद दुनियाभर में बसे भारतीयों का स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर एक साथ लाना है. वो इस वेबसाइट के जरिए लाल किले पर होने वाले हर उत्‍सव की लाइव स्‍ट्रीमिंग का मजा उठा पाएंगे. VR 360 डिग्री के फॉरमैट में उन्‍हें लाइव टेलीकास्‍ट देखने को मिलेगा. https://indianidc2021.mod.gov.in ये वो वेबसाइट है जो एनआरआईज को आजादी के जश्‍न में शामिल होने का मौका देगी. इस वेबसाइट की एक मोबाइल एप भी होगी जिसे समारोह से कुछ घंटे पहले लॉन्‍च किया जाएगा.

VR फॉरमैट में कार्यक्रमों का मजा

रक्षा मंत्रालय का कहना है कि इसके जरिए दुनिया के हर कोने में बसे भारतीयों को आजादी के जश्‍न में साथ लाना है. हर उम्र और हर तबके के लोग,खासकर के युवा इससे बेहतरी से जुड़ सकेंगे. पहला मौका होगा जब लाल किले पर स्‍वतंत्रता दिवस समारोहों का 360 डिग्री फॉरमैट में वर्चुअल रियल्‍टी (VR) के साथ टेलीकास्‍ट किया जाएगा. लोग इस फीचर को वीआर गैजेट के साथ और इसके बिना भी प्रयोग कर सकेंगे. इस प्‍लेटफॉर्म में स्‍पेशल आईडीसी रेडियो के साथ ही ई-बुक्‍स का भी सेक्‍शन है. साथ ही साल 1971 की जंग के 50 साल पूरे होने पर ब्‍लॉग और जीत की कहानियों का भी सेक्‍शन दिया गया है. इसके अलावा स्‍वतंत्रता आंदोलन, वॉर और वॉर मेमोरियल्‍स की भी हर जानकारी यहां पर मौजूद है.

आयोजित किए जा रहे हैं 40 कार्यक्रम

देश में आजादी के 75 साल के मौके पर अलग-अलग जगहों पर तीनों सेनाओं, रक्षा मंत्रालय और बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशंस (BRO) के साथ नेशनल कैडेट कोर (NCC) और राष्‍ट्रीय तटरक्षक बल (ICG) की तरफ से 40 कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा. ये वेबसाइट एक खास RSVP सिस्‍टम पर काम करेगी और इसके तहत एक क्‍यूआर कोड हर निमंत्रण कार्ड पर दिया जाएगा.

इस क्‍यू आर कोड को आमंत्रित किए गए व्‍यक्तियों को अपने स्‍मार्ट फोन से स्‍कैन करना होगा. स्‍कैनिंग के बाद एक वेब लिंक जनरेट होगा जिसके जरिए आमंत्रित व्‍यक्ति सीधा वेब पोर्टल से जुड़ जाएंगे. वो इस फंक्‍शन को अटैंड करने की अपनी इच्‍छा पोर्टल पर जाहिर कर सकते हैं.

डिफेंस सेक्रेटरी डॉक्‍टर अजय कुमार ने कहा है कि जल्‍द ही लोग नेशनल वॉर मेमोरियल पर शहीदों को ऑनलाइन श्रद्धांजलि भी दे सकेंगे. डिजिटली वो राष्‍ट्रीय राजधानी स्थित वॉर मेमोरियल जाए बिना ही देश पर कुर्बान हुए सैनिकों को याद कर सकेंगे. ये गतिविधि भी इसी वेबसाइट का हिस्‍सा होगी.