IND vs ENG: केएल राहुल के शतक और रोहित शर्मा की फिफ्टी ने टीम इंडिया को बनाया बलवान, इंग्लैंड परेशान

 केएल राहुल (KL Rahul) के करियर के छठे शतक तथा रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की आकर्षक अर्धशतकीय पारी से भारत ने तीन विकेट पर 276 रन बनाकर इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच का पहला दिन अपने नाम किया. राहुल ने 248 गेंदों पर 12 चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 127 रन बनाए हैं. रोहित विदेशी सरजमीं पर अपने पहले टेस्ट शतक से चूक गए. उन्होंने 145 गेंदों पर 83 रन की पारी खेली जिसमें 11 चौके और एक छक्का शामिल है. इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 126 रन जोड़े. यह लॉर्ड्स पर भारत की तरफ से पहले विकेट के लिये तीसरी और 1974 के बाद पहली शतकीय साझेदारी है. चेतेश्वर पुजारा (23 गेंदों पर नौ रन) फिर से असफल रहे. कप्तान विराट कोहली ने भी 103 गेंदों पर 42 रन की संघर्षपूर्ण पारी खेली लेकिन उन्होंने राहुल के साथ तीसरे विकेट के लिए117 रन की साझेदारी की. स्टंप उखड़ने के समय राहुल के साथ अजिंक्य रहाणे एक रन पर खेल रहे थे.

इंग्लैंड के गेंदबाजों में जेम्स एंडरसन (52 रन देकर दो विकेट) ही प्रभावी दिखे. उन्हें दूसरे छोर से अदद सहयोगी की कमी खली. उनके साथी स्टुअर्ट ब्रॉड चोटिल होने के कारण श्रृंखला से बाहर हो चुके हैं. इंग्लैंड ने 80 ओवर पूरे होने के तुरंत बाद नयी गेंद ली जिसका फायदा उठाकर ऑली रॉबिन्सन (47 रन देकर एक) ने कोहली का विकेट लिया. कप्तान जो रूट विकेट के लिएबेताब दिखे और उन्होंने इस बीच दो ‘रिव्यू’ भी गंवाए. भारत ने इस मैच के लिए चोटिल शार्दुल ठाकुर की जगह तेज गेंदबाज इशांत शर्मा को प्लेइंग इलेवन में रखा. इंग्लैंड ने चोटिल स्टुअर्ट ब्रॉड, डैन लॉरेन्स और जैक क्रॉल की जगह मोईन अली, हसीब हमीद और मार्क वुड को टीम में शामिल किया. नॉटिंघम में पहला टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था. इस तरह से पांच मैचों की सीरीज अभी 0-0 से बराबरी पर है.

धीमी शुरुआत के बाद भारत ने पकड़ी रफ्तार

भारत को पहले बल्लेबाजी के लिये आमंत्रित किए जाने के बाद रोहित ने 145 गेंदों पर 83 रन की पारी खेली. इसमें 11 दर्शनीय चौके और एक छक्का शामिल है. उन्होंने राहुल (143 गेंदों पर नाबाद 55) के साथ पहले विकेट के लिये 126 रन जोड़े. यह लॉर्ड्स पर भारत की तरफ से पहले विकेट के लिए तीसरी और 1974 के बाद पहली शतकीय साझेदारी है. इंग्लैंड के गेंदबाजों में जेम्स एंडरसन (28 रन देकर दो विकेट) ही प्रभावी दिखे लेकिन उन्हें दूसरे छोर से अदद सहयोगी की कमी खली. रोहित ने बारिश से प्रभावित पहले सत्र में शुरुआती एक घंटे में परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाया लेकिन इसके बाद उन्होंने अपने नैसर्गिक अंदाज में बल्लेबाजी की. भारत ने पहले दस ओवरों में 11 रन बनाए लेकिन बल्लेबाज किसी भी समय दबाव में नहीं दिखे.

13वें ओवर में लगा भारत का पहला चौका

पारी का पहला चौका 13वें ओवर में रोहित ने सैम करन पर लगाया. उन्होंने पहली 50 गेंदों पर 13 रन बनाए थे लेकिन इसके बाद हिटमैन ने ‘गियर’बदला और करन के अगले ओवर में चार चौके लगाकर स्कोर बोर्ड को गति दी. रोहित ने ऑली रॉबिन्सन पर एक रन लेकर टेस्ट मैचों में 13वां अर्धशतक पूरा किया और इसके बाद मार्क वुड की गेंद छह रन के लिये भेजी. भारत का स्कोर जब 100 रन पहुंचा तो उसमें राहुल का योगदान केवल 16 रन था. जब लग रहा था कि रोहित विदेशी सरजमीं पर अपना पहला शतक लगा लेंगे तब एंडरसन ने दो आउटस्विंगर करने के बाद अंदर आती गेंद पर रोहित की गिल्लियां गिराईं.

एंडरसन ने बनाया रिकॉर्ड

राहुल ने पहले रोहित की बल्लेबाजी का पूरा लुत्फ उठाया. उन्होंने मोईन अली पर लॉन्ग ऑफ क्षेत्र में छक्का जड़कर अपने हाथ खोले और फिर वुड पर दो खूबसूरत चौके लगाये. उन्होंने रॉबिन्सन पर तीन रन लेकर अपना 13वां अर्धशतक पूरा किया. चेतेश्वर पुजारा (23 गेंदों पर नौ रन) क्रीज पर उतरने के बाद किसी भी समय सहज नहीं दिखे. उन्होंने बाहर जाती गेंदों से छेड़ने का प्रयास किया और एंडरसन की एक ऐसी ही गेंद पर स्लिप में कैच दिया. एंडरसन किसी एक मैदान पर भारत के खिलाफ सर्वाधिक (30) विकेट लेने वाले गेंदबाज बने.

भारत के लिये हालांकि अपने दो शीर्ष बल्लेबाजों की फॉर्म चिंता का विषय है. नॉटिंघम में पहली गेंद पर आउट होने वाले कोहली को शुरू में एंडरसन ने परेशानी में रखा. उन्होंने 49वीं गेंद का सामना करते हुए अपना पहला चौका लगाया. इसके बावजूद कोहली अपनी नैसर्गिक लय हासिल नहीं कर पाये और दिन के अंतिम क्षणों में स्लिप में आसान कैच देकर पवेलियन लौटे.