IND vs ENG: विराट कोहली ने अश्विन को अधरझूल में छोड़ा, तीसरे टेस्ट की प्लेइंग इलेवन पर कही ये बात

 भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट से पहले प्लेइंग इलेवन में बदलाव को लेकर बात की. उन्होंने कहा कि पिछले मैच में सफलता हासिल करने वाली टीम को बदलने का कोई कारण नहीं है. लेकिन अगर पिच स्पिनरों के अनुकूल हुई तो अनुभवी रविचंद्रन अश्विन को अंतिम एकादश में शामिल किया जा सकता है. ऑफ स्पिनर अश्विन को प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं देने पर हो रही बहस के बीच कोहली ने साफ कर दिया कि वह बुधवार से शुरू हो रहे मैच के लिए विजयी एकादश में कोई बदलाव करने पर विचार नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘हमारे पास बदलाव करने का कोई कारण नहीं है, जब तक कि पिछले टेस्ट में खेलने वालों को चोट न लगी हो. आप विजयी संयोजन को छेड़ना नहीं चाहते, खासकर जब टीम ने दूसरे टेस्ट में इतनी अविश्वसनीय जीत हासिल की हो.’

उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि भारत पिच की स्थिति को देखते हुए अश्विन को खिलाने की कोशिश कर सकता है. उन्होंने कहा कि टीम प्रबंधन अश्विन पर फैसला करने से पहले आकलन करेगा कि तीसरे और चौथे दिन पिच का मिजाज कैसा रह सकता है. उन्होंने कहा, ‘जहां तक अश्विन के खेलने का सवाल है तो हम पिच को देखकर काफी हैरान हैं. ईमानदारी से कहूं तो हम ऐसी पिचें देख रहे हैं, जिसकी मुझे उम्मीद नहीं थी. मैंने सोचा था कि पिच पर बहुत घास होगी. यह अधिक जीवंत होगी. लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है. ऐसे में कुछ भी हो सकता है.’

अश्विन आए तो जडेजा जाएंगे बाहर

भारत ने पहले दो टेस्ट में चार तेज गेंदबाज खिलाए हैं. इनके आगे इंग्लैंड की बल्लेबाजी ढह गई थी. लॉर्ड्स टेस्ट में दूसरी पारी में जिस तरह से भारतीय गेंदबाजों ने अंग्रेज बल्लेबाजों को निपटाया उसे देखते हुए शायद मेजबान टीम ने पिच पर घास नहीं रखने का फैसला किया. कोहली ने टीम कॉम्बिनेशन के बारे में कहा, ‘हम हमेशा 12 खिलाड़ियों का ऐलान करते हैं और फिर मैच वाले दिन पिच देखते है और तीसरे दिन या चौथे दिन पिच कैसे रहेगी उसके हिसाब से हम सही कॉम्बिनेशन के साथ उतरेंगे.’  टीम में अगर अश्विन को मौका मिलता है तो रवींद्र जडेजा अंतिम एकादश से बाहर हो सकते है. जडेजा पहले दो टेस्ट में खेले थे.