ENG VS PAK: दिनेश कार्तिक ने बाबर आजम की तारीफ में कही ऐसी बात, पाकिस्तानी भी कर रहे सलाम

 नई दिल्ली. भारतीय टीम से बाहर चल रहे विकेटकीपर दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) इन दिनों इंग्लैंड में कमेंट्री कर रहे हैं. दिनेश कार्तिक वर्ल्ड टेस्ट सीरीज के फाइनल में कमेंट्री के लिए इंग्लैंड गए थे लेकिन इसके बाद वो इंग्लैंड-श्रीलंका और अब इंग्लैंड-पाकिस्तान (England vs Pakistan, 3rd ODI) सीरीज में भी कमेंट्री करते नजर आए. दिनेश कार्तिक ने मंगलवार को पाकिस्तान-इंग्लैंड के बीच चल रहे तीसरे वनडे में ऐसी बात कही जिसके बाद पाकिस्तानी फैंस उन्हें सलाम कर रहे हैं. दिनेश कार्तिक ने पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम (Babar Azam Century) की जमकर तारीफ करते हुए बताया कि आखिर क्यों वो नंबर 1 बल्लेबाज हैं. बता दें बाबर आजम ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे वनडे में शानदार 158 रनों की पारी खेली.


दिनेश कार्तिक ने बाबर आजम के शतक के बाद कहा, ‘वर्ल्ड क्लास बल्लेबाज ज्यादा मैचों तक आउट ऑफ फॉर्म नहीं रहते. इसलिए बाबर आजम नंबर 1 बल्लेबाज हैं.’ दिनेश कार्तिक की इस बात ने पाकिस्तानी फैंस का दिल जीत लिया और ट्विटर पर इस भारतीय क्रिकेटर की कमेंट्री की तारीफ होने लगी.


बाबर आजम ने लगाई रिकॉर्डतोड़ सेंचुरी
बता दें बाबर आजम ने मंगलवार को इंग्लैंड के खिलाफ शतक ठोक वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. बाबर आजम सबसे तेजी से 14 वनडे सेंचुरी लगाने वाले खिलाड़ी बन गए. बाबर आजम ने मेग लैनिंग का रिकॉर्ड तोड़ा जिन्होंने 82 पारियों में ये कारनामा किया था. पुरुष क्रिकेट की बात करें तो हाशिम आमला ने 84 पारियों में 14 शतक ठोके थे. वहीं विराट कोहली ने 14 शतक के लिए 103 पारियां खेली थी. डेविड वॉर्नर ने ये कारनामा 98 पारियों में किया था.

बाबर आजम इंग्लैंड में 3 वनडे शतक ठोकने वाले पहले पाकिस्तानी बल्लेबाज हैं. वहीं वनडे में 150 रनों का पारी खेलने वाले वो पहले पाकिस्तानी हैं. बाबर आजम को बर्मिंघम का मैदान खूब रास आता है. इस मैदान पर बाबर आजम ने लगातार दूसरा शतक ठोका. बाबर आजम ने इससे पहले इस मैदान पर नाबाद 101 रन बनाए थे. बाबर बर्मिंघम में पिछली 3 पारियों में 290 रन बना चुके हैं.

अर्धशतक के बाद बाबर आजम ने पकड़ी रफ्तार
बता दें इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे वनडे में बाबर आजम ने अर्धशतक के लिए 72 गेंद खेली लेकिन पचास का स्कोर पार करते ही उन्होंने तेजी से बल्लेबाजी की. अगली 32 गेंदों में शतक तक पहुंच गए और अगले पचास रन उन्होंने 30 गेंदों में बना डाले.