क्या आज खत्म होगा कोहली के शतक का इंतजार, पिछले 2 साल से नहीं छुआ 100 का आंकड़ा

लीड्स टेस्ट में टीम इंडिया के बल्लेबाज दूसरी पारी में जबरदस्त संघर्ष दिखा रहे हैं. पहली पारी में सिर्फ 78 रन पर सिमटने वाली टीम इंडिया ने दूसरी पारी में दो विकेट खोकर 215 रन बना लिए हैं. इंग्लैंड ने पहली पारी में 432 रन बनाए थे और टीम इंडिया अभी बी 139 रन से पीछे है. टेस्ट मैच में अभी दो दिन का खेल बचा हुआ है. ऐसे में टीम इंडिया की उम्मीदें चेतेश्ववर पुजारा और कप्तान विराट कोहली पर टिकी है. पुजारा 91 और कोहली 45 रन बनाकर खेल रहे हैं. दोनों बल्लेबाजों का इस सीरीज में यह सर्वोच्च स्कोर है. फैंस दुआ कर रहे हैं कि दोनों बल्लेबाज शतक लगाएं. कोहली ने आखिरी बार 22 नवंबर 2019 को बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता टेस्ट में शतक लगाया था. इसके बाद से वह 50 पारियों में शतक नहीं लगा सके हैं.

 

लीड्स टेस्ट के चौथे दिन विराट के पास शतक जड़ने का शानदार मौका है. पहले दिन के बाद पिच बल्लेबाजी के लिए मुफीद हो गई है. एक और शतक के साथ कोहली न केवल अपने लंबे समय से चले आ रहे शतक के सूखे को तोड़ देंगे, बल्कि बतौर कप्तान सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय शतक का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लेंगे. फिलहाल कोहली पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पॉन्टिंग (41 शतक) के साथ संयुक्त रूप से नंबर वन हैं.

 

इसके अलावा कोहली ने नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में 70 शतक दर्ज है. उनसे आगे सिर्फ सचिन तेंदुलकर (100) और रिकी पॉन्टिंग (71) हैं. लीड्स में शतक लगाते ही कोहली पूर्व कंगारू खिलाड़ी पॉन्टिंग के साथ शतक के मामले में संयुक्त रूप से दूसरे नंबर पर आ जाएंगे. विराट कोहली अगर लीड्स में शतक बनाते हैं तो यह उनका 28वां टेस्ट शतक होगा. अब तक सिर्फ 15 बल्लेबाज ही टेस्ट क्रिकेट में 28 या इससे अधिक शतक लगा सके हैं. विराट ऐसा करने वाले 16वें बल्लेबाज बन सकते हैं. विराट फिलहाल 27 शतक लगाकर स्टीव स्मिथ, ग्रीम स्मिथ और एलन बॉर्डर की बराबरी पर हैं.

इंग्लैंड के खिलाफ 2000 टेस्ट रन: कोहली ने इंग्लिश टीम के खिलाफ 26 टेस्ट मैचों करीब 44 की औसत से 1856 रन बना चुके हैं. इंग्लैंड के खिलाफ भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन सचिन तेंदुलकर (2535), सुनील गावस्कर (2483), राहुल द्रविड़ (1950) और गुंडप्पा विश्वनाथ (1880) ने बनाए हैं. कोहली के पास द्रविड़ और विश्वनाथ को पीछे छोड़ने का मौका है.