ट्रेन लेट होने पर टिकट का पूरा किराया वापस कर देता है रेलवे, यात्री को दिया गया है ये खास अधिकार

 भारतीय रेल दुनिया का चौथा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है. भारतीय रेल द्वारा चलाई जाने वाली यात्री ट्रेनों में रोजाना करोड़ों लोग सफर करते हैं. कोरोनावायरस महामारी की वजह से फिलहाल भारतीय रेल सीमित सेवाएं ही उपलब्ध करा रहा है. जैसे-जैसे स्थिति सामान्य होती जाएगी, वैसे-वैसे बंद पड़ी ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा. भारतीय रेलवे लगातार समय के साथ-साथ आगे बढ़ रहा है. यात्रियों को बेहतर सुविधाएं देने के लिए भारतीय रेल निरंतर बड़े कदम उठा रहा है. हालांकि, रेल यात्रियों की एक पुरानी शिकायत अभी तक दूर होने का नाम नहीं ले रही है. जी हां, हम बात कर रहे हैं घंटों-घंटों लेट चलने वाली भारतीय ट्रेनों की.

लेटलतीफी के साथ पुराना है रेलवे का रिश्ता

भारतीय रेल और लेटलतीफी का एक पुराना रिश्ता रहा है, जो अभी भी कायम है. हालांकि, रेलवे ट्रेनों की इस लेटलतीफी को खत्म करने के लिए तमाम कोशिशें कर रही है. लेकिन इस दिशा में रेलवे को अभी तक कोई खास कामयाबी नहीं मिली है. ट्रेनों की लेटलतीफी के कारण हजारों यात्रियों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. सभी ट्रेनों को समय पर चलाना और समय पर पहुंचाना भारतीय रेल की जिम्मेदारी है और यदि कोई ट्रेन लेट हो जाए तो इसके लिए रेलवे अपने यात्रियों को टिकट के पैसे भी लौटाती है. हालांकि, इस सुविधा के बारे में बहुत कम लोगों को ही जानकारी होती है.

ट्रेन लेट होने पर वापस प्राप्त कर सकते हैं पूरे पैसे

भारतीय रेल में सफर करने वाले यात्रियों को कुछ खास अधिकार प्राप्त हैं. इन अधिकारों के अंतर्गत यदि आपकी ट्रेन लेट होती है तो आप रेलवे से अपने टिकट के लिए खर्च किए गए पूरे पैसे वसूल सकते हैं. रेलवे के नियमों के मुताबिक यदि आपकी ट्रेन 3 घंटे या इससे ज्यादा लेट है तो आप अपनी टिकट को कैंसल कराकर पूरे पैसे वसूल सकते हैं. अब चाहे आपकी टिकट कंफर्म हो, आरएसी हो या फिर वेटिंग हो. बताते चलें कि पहले ये अधिकारी सिर्फ काउंटर से टिकट बनवाने वाले यात्रियों को ही प्राप्त थे, हालांकि बाद में इसे ऑनलाइट टिकट बुक कराने वाले यात्रियों के लिए भी लागू कर दिया गया.

रिफंड पाने के लिए करना होता है ये काम

3 घंटे या इससे ज्यादा लेट होने पर आप अपनी काउंटर टिकट को उसी स्टेशन के टिकट काउंटर पर जाकर कैंसल करा सकते हैं और पूरी राशि वापस पा सकते हैं. यदि आपने अपनी टिकट ऑनलाइन बुक की है तो इसके लिए आपको ऑनलाइन टीडीआर (टिकट डिपॉजिट रीसिप्ट) फॉर्म भरना होता है. टीडीआर भरने के तुरंत बाद आपको टिकट का आधा पैसा मिल जाएगा और बाकी का आधा पैसा ट्रेन की यात्रा पूरी होने के बाद मिल जाता है. बताते चलें कि यदि आप अपने निजी कारणों से टिकट कैंसल कराते हैं तो रेलवे आपको कैंसेलेशन चार्ज काटकर पैसे लौटाता है.