बतौर कप्तान सचिन के पहले मैच टीम इंडिया को मिली थी शर्मनाक हार, सचिन ने बनाए थे इतने रन

Laptop Kya Karega Dressing Room Me': Sachin Tendulkar's Tryst With Cricket  Analytics

चिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने वर्ल्ड क्रिकेट में कई बड़े रिकॉर्ड बनाए हैं. उनसे अधिक रन दुनिया का कोई बल्लेबाज नहीं बना सका है. लेकिन बतौर कप्तान सचिन का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा. आज ही के दिन 28 अगस्त 1996 को पहली बार उन्होंने टीम इंडिया (Team India) की कमान संभाली थी. कोलबों में खेले गए इस मुकाबले में उन्होंने शानदार शतक भी लगाया था, लेकिन टीम को श्रीलंका के हाथों 9 विकेट से करारी शिकस्त मिली थी. बाद में उन्होंने कप्तानी छोड़ दी थी.

मैच में सचिन तेंदुलकर ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया. सचिन और अजय जडेजा (0) ओपनिंग के लिए उतरे. लेकिन जडेजा बिना रन बनाए आउट हो गए. इसके बाद उतरे सौरव गांगुली (16) भी कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सके. 57 रन पर 2 विकेट गिरने के बाद सचिन (110) और मोहम्मद अजहरुद्दीन (58) ने तीसरे विकेट के लिए 129 रन जोड़कर टीम को संभाला. सचिन ने 138 गेंद का सामना किया. लेकिन वे सिर्फ 6 बाउंड्री लगा सके. इसमें 5 चौके और एक छक्का शामिल था. टीम ने निर्धारित 50 ओवर में 5 विकेट पर 226 रन बनाए.

सनथ जयसूर्या के तूफान में उड़ा भारत

लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका ने बेहद तेज शुरुआत की. सनथ जयसूर्या (120*) और रोमेश कालूवितराना (53) ने पहले विकेट के लिए 129 रन जोड़े. कालूवितराना का विकेट भी सचिन तेंदुलकर ने ही लिया. अरविंद डिसिल्वा 49 रन बनाकर नाबाद रहे. जयसूर्या ने पारी में 128 गेंद का सामना किया. 8 चौके और 3 छक्के लगाए. श्रीलंका ने लक्ष्य को 44.2 ओवर में एक विकेट पर हासिल कर लिया. यानी 34 गेंद का खेल बाकी था.

98 में से सिर्फ 27 मैच जीत सके, 52 मैच हारे

सचिन तेंदुलकर के कप्तानी रिकॉर्ड की बात करें तो उन्होंने 98 इंटरनेशनल मैच में कप्तानी की. उन्हें सिर्फ 27 मैच में जीत मिली, जबकि बतौर कप्तान 52 मैच हारे. यानी उन्हें लगभग दोगुनी हार मिली. वनडे की बात की जाए तो सचिन तेंदुलकर ने 73 मैच में कप्तानी की. 23 जीते, 43 में हार मिली. वहीं टेस्ट की बात करें तो सचिन 25 में से सिर्फ 4 टेस्ट जीत सके. 9 में हार मिली, जबकि 12 टेस्ट ड्रॉ रहे.