महिला सिपाही और DSP के अश्लील VIDEO केस में नया खुलासा, वीडियो सेव करना चाहती थी महिला कांस्टेबल, गलती से लग गया Whatsapp स्टेटस

 राजस्थान में DSP हीरालाल सैनी और महिला कांस्टेबल के वायरल हुए अश्लील वीडियो मामले में एक के बाद एक कई चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। इस वीडियो के वायरल होने के बाद जहां हर कोई सन्न है। ये घिनौना सच सामने आने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मचा है तो वही स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप SOG की पूछताछ में दोनों ने बताया कि 10 जुलाई को कांस्टेबल के आठ साल के बेटे का बर्थडे था और दोनों ने बेटे का बर्थडे सेलिब्रेट करने के लिए कुछ नया करने का तय किया था। 

बता दें कि अश्लील वीडियो मामले में गिरफ्तार हुए राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी हीरालाल सैनी 17 सितंबर तक एसओजी रिमांड पर है। हीरालाल सैनी से अब एसओजी वायरल हुए अश्लील वीडियो के बारे में पूछताछ कर रही है। पूछताछ में सामने आया की बर्थडे सेलिब्रेट करने के लिए निलंबित डीएसपी हीरालाल सैनी ने पुष्कर के एक फ़ाइव स्टार होटल का लग्ज़री सूट बुक कराया था।

DSP ने अलग रिसोर्ट वहां के थाना प्रभारी से फ़ोन करके बुक कराया था। यहां कमरे के साथ ही प्राइवेट स्विमिंग पूल भी था जिसमें यह दोनों कॉन्स्टेबल के बेटे का बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे थे। पूल को बैलून से सजाया गया था और पूल में ही केक काटने के बाद दोनों ने आठ साल के मासूम के बर्थ डे मनाया और वीडियो शूट किया। बेटे का बर्थ डे मनाने बाद दोनों ने अश्लील वीडियो भी शूट किया। स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के अधिकारी इन दोनों को रिजॉर्ट में ले जाकार मौक़ा मुआयना करवाया।

 रिजॉर्ट के रजिस्टर में दोनों की एंट्री हुई है और 16 हज़ार का पेमेंट भी दिखाया गया है। कोर्ट ने निलंबित DSP को कुछ दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। पॉक्सो कोर्ट के जज रेखा शर्मा ने SOG की डिमांड पर पुलिस रिमांड दिया है SOG का कहना था कि जिस तरह के वीडियो सामने आए हैं उससे बहुत सारे राज सामने आने बाक़ी हैं। जांच कर रहे पुलिसकर्मियों ने बताया कि निलंबित DSP के हाव भाव को देखकर ऐसा लग रहा है कि उसे अपने किए पर कोई पछतावा नहीं है।

 SOG की पूछताछ में पता चला है कि निलंबित DSP सैनी और महिला कांस्टेबल के बीच क़रीब 5 साल से संबंध थे. इस संबंध की वजह से महिला कॉन्स्टेबल ने अपने पति को छोड़ दिया था। आरोपी सैनी ने SOG को बताया है कि महिला कॉन्स्टेबल के पास उसकी ऐसी 50 से ज़्यादा वीडियोज और फोटोज मौजूद हैं और वह उसे भविष्य में ब्लैकमेल करने के लिए यह सब बनवा रही थी।

 10 जुलाई को बनाए गए इस वीडियो को वह अपने मोबाइल फोल्डर में सेव कर रही थी लेकिन गलती से वॉट्सऐप स्टेटस पर सेव हो गया जिसे महिला कॉन्स्टेबल के ससुराल वालों ने देख लिया और वहीं से यह वायरल हो गया। जानकारी देदे की DSP और  महिला कांस्टेबल के साथ स्वीमिंग पूल में वायरल वीडियो में महिला कांस्टेबल का बच्चा भी साथ नजर आ रहा था।

पुलिस मुख्यालय ने आरोपी हीरालाल सैनी समेत इस मामले लीपापोती करने वाले करीब आधा दर्जन अधिकारियों को सस्पेंड भी कर दिया है। साथ ही एसओजी ने आरोपी हीरालाल सैनी को उदयपुर से गिरफ्तार कर लिया था। जिसके बाद इस मामले में आए दिन नई परते खुलती जा रही है।