क्या आप भी दूसरे स्टेट में जा रहे हैं? ये नियम जान लीजिए, वर्ना नहीं मिलेगी एंट्री! हर राज्य की यहां है डिटेल

 कोरोनावायरस का संकट अभी भी बरकरार है. हालांकि, कोरोना के मामलों में कमी आने के बाद अब राज्य सरकारों की ओर से लोगों को ढील दी गई है. लॉकडाउन हटाने के साथ ही राज्य सरकार की ओर से कई कदम उठाए गए हैं. दरअसल, पहले अधिकतर राज्यों में दूसरे राज्य से आने वाले लोगों के लिए कोरोना वायरस की नेगेटिव जांच साथ होना आवश्यक की गई थी, लेकिन अब कई राज्यों ने यह नियम हटा दिया है.

फ्लाइट से एक स्टेट से दूसरे राज्यों में यात्रा करने वाले लोगों के लिए भी कोरोना वायरस की जांच आवश्यक थी, लेकिन अब हर राज्य में अलग नियम है. ऐसे में अगर आप फ्लाइट से किसी एक स्टेट से दूसरे स्टेट में यात्रा कर रहे हैं तो पहले उस राज्य की गाइडलाइन देख लें कि क्या आपको कोरोना वायरस की जांच करवाना आवश्यक है या फिर वैक्सीन लगवाना जरूरी है. ऐसे में आज हम आपको हर राज्य के नियम बता रहे हैं ताकि आप उसके हिसाब से पता लगा पाएं कि दूसरे राज्य में यात्रा करने के क्या नियम हैं.

स्पाइसजेट ने अपने यात्रियों के लिए जानकारी शेयर की गई है, जिसमें बताया गया है कि किस-किस राज्य में टेस्ट रिपोर्ट की आवश्यकता है. साथ ही किन राज्यों ने वैक्सीन को लेकर नियम तय किए हुए हैं. स्पाइसजेट की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, दिल्ली, तमिलनाडु, तेलंगाना, पंजाब, आंध्र प्रदेश, हिमाचल प्रदेश में जाने वाले यात्रियों को कोविड रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं है. इसके अलावा जानते हैं किन राज्यों के क्या नियम है…

दिल्ली- कोई रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

तमिलनाडु- कोई रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

तेलंगाना- कोई रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

आंध्र प्रदेश- कोई रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

हिमाचल प्रदेश- कोई रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

पंजाब- कोई रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

कर्नाटक- महाराष्ट्र और केरल से आने वाले यात्रियों के लिए रिपोर्ट की आवश्यकता.

असम- फुल वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट वाले लोगों को रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

राजस्थान- एक डोज वैक्सीन का सर्टिफिकेट रखने वाले लोगों को रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

ओडिशा- फुल वैक्सीनेशन करवा चुके यात्रियों को कोविड रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

गुजरात- सूरत के अलावा अन्य जिलों में कोविड रिपोर्ट की आवश्यकता नहीं.

बिहार- दरभंगा के अलावा महाराष्ट्र, पंजाब और केरल के यात्रियों को रिपोर्ट की आवश्यकता है.

उत्तर प्रदेश- महाराष्ट्र और केरल से आने वाले यात्रियों को टेस्ट की आवश्यकता है.

मध्य प्रदेश- दिल्ली और महाराष्ट्र से जबलपुर जाने वाले यात्रियों को टेस्ट की आवश्यकता है. महाराष्ट्र से ग्वालियर आने वाले यात्रियों को भी टेस्ट करवाने की आवश्यकता है.