18 अक्टूबर से 30 अक्टूबर तक, जानिए क्या लिखा है आपके नसीब में..

मेष, कन्या, धनु :-

नौकरी पेशा में तरक्की हासिल होने वाली है। पड़ोसियों के अच्छे सम्बन्ध स्थापित होने वाले हैं। अचानक से बड़ी परिस्थिति को आप संभल सकते है। बेहतरीन समय के प्रति आप ध्यान दे सकते है। परेशानियों का खत्म होता आपको देखने मिल सकता है। मन चंचल बना रह सकता है। धार्मिक कार्यक्रम शामिल हो सकते है। उत्तम कार्य करने में सक्षम नजर आ सकते हैं। शादीशुदा जातकों के दांपत्य जीवन में काफी उथल-पुथल मचेगी और जीवनसाथी से झगड़ा भी हो सकता है और उनकी तबीयत भी बिगड़ सकती है, इसलिए थोड़ी सावधानी बरतें। प्रेम जीवन जीने वालों को बेहतरीन नतीजे हासिल होंगे और उन्हें रोमांस के अवसर मिलेंगे।

 

मासिक भविष्यवाणी: 07 अप्रैल से 30 अप्रैल तक, जानिए क्या लिखा है आपके नसीब में

Third party image reference

वृषभ, सिंह, मीन :-

जीवनसाथी आप के जीवन में खुशहाली लेकर आ सकता है जीवनभर आप का साथ देगा। आपका मन प्रसन्न रहेगा। भगवान श्री कृष्ण की कृपा दृष्टि आपके ऊपर सबसे अधिक बनी रहेगी। प्यार और रोमांस के लिए यह समय बहुत ही बढ़िया है। आपको जीवन में सच्चा और पवित्र प्रेम मिलेगा और आपके जीवन पर सूर्य देव की कृपा होगी। जिससे आपके जीवन में प्यार बना रहेगा। आपके जीवन में आने वाले सभी प्रकार के दुखों का अंत होगा। आपको अपना सच्चा प्यार मिलने के योग बन रहे हैं।

 

Third party image reference

मिथुन, तुला, मकर :-

आपके भावनाओं में बहने की उम्मीद थोड़ी ज्यादा है ǀकिसी छोटी सी बात पर भी आप उदास हो जायेंगे या पुराने बेह्तर समय को याद करने लगेंगे ǀकिसी पुराने दोस्त से संपर्क साधने की कोशिश कर सकते हैं ǀ आप अपनी वर्त्तमान समस्या को सुलझाने के लिए कोई संतोषजनक समाधान खोजने या किसी की तरफ दोस्ती का हाथ बढाने के मूड में हैं ǀ सुकून हासिल करने लिए कुछ पल क़रीबी दोस्तों के साथ बिताएँ। किसी बड़े समूह में भागीदारी आपके लिए दिलचस्प साबित होगी, हालाँकि आपके ख़र्चे बढ़ सकते हैं। उस रिश्तेदार को देखने जाएँ, जिसकी तबियत काफ़ी समय से ख़राब है।

 

Third party image reference

कर्क, वृश्चिक, कुंभ :-

आप अपने सपने और विश्वास को जांचने के मूड में हैं। हाल ही में हुआ कोई नुकसान जैसे दादा या दादा जैसे किसी की मृत्यु आपको अकेला या दुखी महसूस करा सकती है। अपने आप के लिए समय निकालें। आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों के प्रति सक्रिय रहें। आज आत्मनिरीक्षण के लिए उपयुक्त समय है। यह ताकत और सकारात्मक गुणों पर ध्यान केंद्रित करने में आपकी सहायता करेगा। अब आप आत्मनिरीक्षण और चिंतन के माध्यम से अपनी वास्तविक क्षमता को बढ़ा सकते है, जिसके परिणामस्वरूप आत्मविश्वास बढ़ेगा। अपने मन का विकास करें और उस पर नियंत्रण रखें इससे शीघ्र फल की प्राप्ति होगी।

Comments are closed.