ENG vs PAK: इंग्लैंड के दिग्गज खिलाड़ी की दिलेरी, दर्द का इंजेक्शन लेकर पाकिस्तान की कर डाली धुनाई

 पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ वनडे सीरीज में सूपड़ा साफ करने वाली इंग्लैंड (England) की टीम की हर कोई तारीफ कर रहा है. टीम के मुख्य खिलाड़ियों के बिना उतरी दूसरे दर्जे की टीम ने पूरी क्षमता वाली पाकिस्तानी टीम को 3-0 से धूल चटाई. इस टीम में सबसे अनुभवी खिलाड़ी थे बेन स्टोक्स (Ben Stokes). इंग्लैंड के धाकड़ ऑलराउंडर इस टीम के इकलौते अनुभवी सदस्य थे और कप्तानी भी कर रहे थे. इसके बावजूद इंग्लिश टीम को जीत मिली. लेकिन ये जीत इतनी आसान नहीं थी और इसके लिए स्टोक्स को काफी दर्द बर्दाश्त करना पड़ा. इंग्लैंड के ऑलराउंडर ने खुलासा किया है कि इस सीरीज के दौरान वह काफी ज्यादा दर्द में थे और दर्द दूर करने वाले इंजेक्शन की मदद से वह सीरीज खेल पाए.

स्टोक्स को अप्रैल में आईपीएल 2021 के दौरान राजस्थान रॉयल्स के पहले ही मैच में चोट लग गई थी. एक कैच लेने के दौरान उनके बाएं हाथ की अंगुली में फ्रैक्चर हो गया था. इसके बाद से ही स्टोक्स मैदान से बाहर थे और कुछ वक्त पहले ही घरेलू क्रिकेट से वापसी कर रहे थे. उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज में भी नहीं खेलना था, लेकिन मैच से दो दिन पहले ही इंग्लैंड की टीम में कोरोनावायरस के मामले आने के कारण पूरी टीम बदलनी पड़ी और ऐसे में बदली हुई योजना के कारण स्टोक्स को भी टीम के साथ उतरना पड़ा.

इंग्लैंड की कप्तानी के लिए कर सकते हैं दर्द बर्दाश्त

इसके बावजूद इंग्लैंड ने पाकिस्तान को हराने में सफलता हासिल की. स्टोक्स हालांकि, सीरीज में ज्यादा योगदान नहीं दे सके, लेकिन दर्द के बावजूद अपनी टीम का नेतृत्व कर उन्होंने जज्बे का सबूत दिया. स्टोक्स ने डेली मिरर अखबार के लिए लिखे अपने लेख में बताया. “मेरे लिए ये मैच पूरी तरह से अप्रत्याशित थे और सच यही है कि सामान्य परिस्थितियों में मै ये मैच नहीं खेलता क्योंकि मेरे बाएं हाथ की अंगुली में बहुत ज्यादा दर्द था.”

हालांकि, स्टोक्स ने स्वीकार किया कि इंग्लैंड की टीम की कप्तानी करने का मौका मिलने पर इस तरह के दर्द को सहा जा सकता है. स्टोक्स ने लिखा, “हालांकि, कभी कभार आपको हंसकर इसे बर्दाश्त करना होता है और इंग्लैंड की कप्तानी करना ऐसा ही एक कारण है. अंगुली में धीरे-धीरे सुधार हुआ है लेकिन दर्द बहुत ज्यादा था और इसलिए मैंने पूरी गर्मियों के लिए इंजेक्शन लगा लिया है.”

भारत के खिलाफ सीरीज पर नजर

स्टोक्स का लक्ष्य अब ‘द हंड्रेड’ टूर्नामेंट और भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में खेलना है. उन्होंने कहा कि वह इन दोनों मौकों पर बिना दर्द के खेलना चाहते हैं और उम्मीद कर रहे हैं कि टेस्ट सीरीज तक उनका ये दर्द कोई समस्या नहीं रहेगा. 21 जुलाई से इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के इस नए फॉर्मेट वाले टूर्नामेंट की शुरुआत हो रही है, जिसमें स्टोक्स नॉर्दर्न सुपरचार्जर्स की ओर से खेलेंगे. वहीं भारत और इंग्लैंड के बीच 4 अगस्त से पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी, जिसके साथ आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप- 2 की शुरुआत भी होगी.