ऑनलाइन क्रेडिट कार्ड लेने के फायदे, फ्री मिल जाती है कई सर्विस, कैशबैक का फायदा अलग से

 शुभम एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करते हैं. वे एक क्रेडिट कार्ड लेने के बारे में सोच रहे हैं. शुभम को लगता है कि क्रेडिट कार्ड के लिए वे अप्लाई करेंगे तो जल्दी ही मंजूर हो जाएगा. इसकी वजह है कि उनके दोस्त ने कुछ आसान टिप्स बताए हैं. शुभम के दोस्त ने बताया है कि बैंक की वेबसाइट पर जाएं और क्रेडिट कार्ड के लिए ऑनलाइन अप्लाई कर दें. इससे कार्ड झट से बन जाता है और घर पर आ जाता है. आइए जानते हैं कि शुभम को ऑनलाइन क्रेडिट अप्लाई के बारे में और क्या जानकारी मिली है और यह कितनी कारगर है.

पहली बात तो बैंक के ब्रांच में जाकर क्रेडिट कार्ड अप्लाई करने और ऑनलाइन अप्लाई में अंतर है. हालांकि दोनों का मकसद यही है कि ग्राहक को क्रेडिट कार्ड मुहैया हो सके. शुभम चूंकि बैंक की भागदौड़ से बचना चाहते हैं, इसलिए ऑनलाइन अप्लाई उन्हें सही विकल्प लग रहा है. ऑनलाइन का दूसरा फायदा है कि इसमें कम से कम कागजी कार्यवाही होती है. किसी भी ग्राहक को क्रेडिट कार्ड देने से पहले बैंक क्रेडिट स्कोर जान लेना चाहता है. बैंक आश्वस्त हो जाना चाहता है कि उसका पैसा कहीं फंस न जाए. शुभम ऑनलाइन अप्लाई कर रहे हैं, इसलिए बैंकों को कई तरह की जानकारी नेट बैंकिंग के जरिये आसानी से मिल जाती है. इससे शुभम को कार्ड देने का काम बैंकों के लिए आसान हो जाता है.

ये हैं फ्री सुविधाएं

बैंकों की ओर से दिए जाने वाले क्रेडिट कार्ड पर अलग-अलग सुविधाएं मिलती हैं. ये सुविधाएं बैंकों पर निर्भर करती हैं. अलग-अलग कार्ड और उनकी सुविधाओं के बारे में जानने के लिए ऑनलाइन रिसर्च करना आसान होता है. इन सुविधाओं में रिवॉर्ड पॉइंट, एयरपोर्ट लाउंज एक्सेस, कैशबैक, गिफ्ट वाउचर और अन्य सुविधाएं शामिल हैं. बैंकों की तरफ से को-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड भी मिलते हैं जिनपर डिस्काउंट और सुविधाएं कुछ अधिक होती हैं. ऐसे में अगर शुभम में ज्यादा सुविधाओं वाला कार्ड चाहिए तो वे ऑनलाइन छानबीन कर अपने लिए सही, सस्ता और सुविधासंपन्न क्रेडिट कार्ड खरीद सकते हैं.

को-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड का फायदा

उदाहरण के लिए एक्सिस बैंक का क्रेडिट कार्ड देख लीजिए. यह बैंक 22 अलग-अलग तरह का क्रेडिट कार्ड देता है. इनमें कई क्रेडिट कार्ड विस्तारा, फ्लिपकार्ट, फ्रीचार्ज और इंडियन ऑयल जैसी कंपनियों के साथ को-ब्रांडेड हैं. यानी कि इन कंपनियों के द्वारा ग्राहकों को खास सुविधाएं दी जाती हैं. ये सुविधाएं कैशबैक से लेकर खरीदारी और एअर माइल्स और एयरपोर्ट लाउंज का फ्री इस्तेमाल के रूप में मिलती हैं. रेस्टोरेंट के बिल और मूवी टिकट पर डिस्काउंट पा सकते हैं.

शुभम में इन सभी बातों पर रिसर्च करने के बाद फैसला कर लिया कि उन्हें कौन सा कार्ड लेना है. शुभम ने देखा कि अगर बिजली, पानी, टेलीफोन आदि का बिल चुकाना हो, किराना का सामान खरीदना हो, गाड़ी का तेल भराना हो तो कैशबैक क्रेडिट कार्ड लेना ठीक रहेगा. चूंकि ये खर्च खूब होते हैं, इसलिए कैशबैक भी मिलेगा.

ऑनलाइन अप्लाई करने के लाभ कई

शुभम ने देखा कि अगर वे बैंक में जाकर क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करते तो इतना जल्दी काम नहीं होगा. अभी ऑनलाइन अप्लाई करने पर 45 सेंकंड में ही मंजूरी मिल गई. यही काम अगर बैंक में जाकर कराते तो ज्यादा वक्त लगता. आयुष यही काम घर बैठे कर सकते हैं. उन्हें बस बैंक के पोर्टल पर जाना है, अपनी योग्यता के बारे में चेक करना है और क्रेडिट कार्ड के लिए फॉर्म भर देना है. बैंकों में 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए क्रेडिट कार्ड देने का नियम रखा है. कुछ बैंकों के नियम कुछ और हो सकते हैं. एक योग्यता ये सकती है कि क्रेडिट स्कोर 750 होना चाहिए और पूर्व में किसी लोन का डिफॉल्ट न किया गया हो.

अब शुभम को ऑनलाइन ये सब जानकारी लेने के बाद फॉर्म भर देना है. फोटो, एड्रेस प्रूफ और पहचान पत्र जैसे दस्तावेज ऑनलाइन ही अपलोड कर देने हैं. इतना कुछ होने के बाद बैंक की तरफ से आसानी से अप्रूवल मिल जाएगा. शुरू में हो सकता है कि लिमिट वाला क्रेडिट कार्ड मिले, लेकिन बाद में उसे आसानी से बढ़वा सकते हैं.