राजस्थान: वसुंधरा गुट के पूर्व मंत्री पर BJP का बड़ा एक्शन, 6 साल के लिए पार्टी से बाहर निकाला

 जयपुर. पार्टी के खिलाफ बयानबाजी करना राजस्थान (Rajasthan BJP) के पूर्व मंत्री रोहिताश्व कुमार शर्मा को काफी महंगा पड़ गया. बड़ा फैसला लेते हुए पार्टी ने शर्मा को अनुशासनहीनता के आरोप में 6 साल के लिए बीजेपी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित (Rohitashva Kumar Sharma) Expelled From BJP) कर दिया गया है. रोहिताश्व कुमार शर्मा की गिनती वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) के करीबी नेताओं में होती है. प्रदेश भाजपा में बयानों को लेकर हुए टकराव के बीच हालही में पूर्व मंत्री डॉ. रोहिताश्व शर्मा  शो कॉज नोटिस जारी किया गया था. रोहिताश्व शर्मा  ने नोटिस को अवैध करार देते हुए कहा था कि महामंत्री को नोटिस देने का कोई अधिकार नहीं है. बिना प्रदेश अध्यक्ष के निर्देश के ऐसी कार्रवाई नहीं हो सकती.


अनुशासनहीनता का नोटिस मिलने के बाद पूर्व मंत्री डॉ. रोहिताश्व शर्मा (Rohitashva Kumar Sharma) ने पार्टी पदाधिकारियों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था.


सरकार के खिलाफ बीजेपी की बड़ी तैयारी

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया  ने गुरुवार को कहा कि भाजपा युवाओं व किसानों के मुद्दों को लेकर राज्य की गहलोत सरकार के खिलाफ सड़क से लेकर सदन तक लड़ाई लड़ेगी. पूनियां अलवर के महावर ऑडिटोरियम में पार्टी पदाधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि किसानों और युवाओं से वादाखिलाफी करने वाली राज्य की गहलोत सरकार  के खिलाफ सड़क से लेकर सदन तक युवाओं और किसानों के साथ भाजपा मजबूती से लड़ाई लड़ेगी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने किसानों का संपूर्ण कर्जा माफ करने का वादा किया था लेकिन आज तक यह वादा पूरा नहीं हुआ और ना ही सरकार युवाओं की भर्तियां पूरी कर रही है.

उन्होंने कहा, ‘‘एक अच्छा संगठन सब सवालों का जवाब होता है, हम मजबूत संगठन से कोई भी जंग जीत लेंगे. इसलिए अभी से राजस्थान में कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए मजबूती से जुट जाएं.’’ पूनियां ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने शानदार कोरोना प्रबंधन किया और दो स्वदेशी टीके विकसित कर बड़े स्तर पर देशभर में टीकाकरण किया जा रहा है. केंद्र सरकार की उज्ज्वला, पीएम किसान सम्मान निधि, जनधन खाता, पीएम आवास योजना जैसी योजनाओं से देश के हर वर्ग को लाभ मिल रहा है.