The Hundred: इंग्लैंड के टूर्नामेंट को विदेशी खिलाड़ियों का झटका, अब ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने लिया नाम वापस

 इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) के महत्वाकांक्षी क्रिकेट टूर्नामेंट ‘द हंड्रेड’ (The Hundred) से विदेशी सितारों के बाहर होने का सिलसिला जारी है. इसी महीने शुरू होने जा रहे इस बिल्कुल नए फॉर्मेट के टूर्नामेंट के लिए नाम तो कई दिग्गजों ने लिखवाया था, लेकिन पिछले कुछ हफ्तों में कुछ खिलाड़ियों ने इससे हटने का ऐलान कर दिया है. इन्हीं में ताजा नाम जुड़ा है ऑस्ट्रेलिया की धुरंधर ऑलराउंडर ऐलिस पेरी (Ellysse Perry) का, जो महिलाओं के ‘द हंड्रेड’ का हिस्सा बनने वाली थीं. जानकारी के मुताबिक, पेरी ने निजी कारणों का हवाला देते हुए टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया है. पेरी को बर्मिंघम फीनिक्स (Birmingham Phoenix) टीम ने शामिल किया था.

100 गेंदों वाले इस टूर्नामेंट की शुरुआत 21 जुलाई से ओवल इंविंसिबल्स और मैनचेस्टर ओरिजिनल्स के बीच होने वाले मुकाबले से होगी. टूर्नामेंट में 8 टीमें हिस्सा ले रही हैं और पेरी बतौर ऑलराउंडर बर्मिंघम फीनिक्स का हिस्सा थीं. टूर्नामेंट में भारतीय महिला टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर, स्मृति मांधना समेत 5 खिलाड़ी भी हिस्सा ले रही हैं. इस टूर्नामेंट का समापन 21 अगस्त को फाइनल के साथ होगा.

बर्मिंघम फीनिक्स को लगातार दूसरा झटका

क्रिकेट वेबसाइट ईएसपीएन-क्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, पेरी ने व्यक्तिगत कारणों से टूर्नामेंट से हटने का फैसला किया. इस बारे में बताते हुए टूर्नामेंट की महिला आयोजन प्रमुख बेथ बैरेट-वाइल्ड के हवाले से बताया है, “जाहिर है हम बहुत निराश हैं कि एलिस पेरी को व्यक्तिगत कारणों से ‘द हंड्रेड’ से हटना पड़ा है. हम हालांकि उनके फैसले को पूरी तरह से समझते हैं और उन्हें शुभकामनाएं देते हैं.”

पेरी से पहले फीनिक्स को एक झटका पिछले महीने भी लगा था, जब न्यूजीलैंड की दिग्गज बल्लेबाज सोफी डिवाइन ने भी टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया था. ऐसे में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के दो बड़े सितारों के हटने से इस टीम के लिए मुश्किलें बढ़ी हैं. फीनिक्स में ही युवा भारतीय सनसनी शेफाली वर्मा भी हैं.

ऑस्ट्रेलिया की अन्य खिलाड़ी भी हटीं

एलिस पेरी इस टूर्नामेंट से नाम वापस लेने वाली पहली ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेटर नहीं हैं. उनसे पहले एलिसा हीली, कप्तान मेग लैनिंग और रेचल हेन्स ने भी भारत के खिलाफ 19 सितंबर से शुरू हो रही घरेलू सीरीज का हवाला देते हुए टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया था. भारतीय टीम सितंबर में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाएगी, जहां वह पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेलेगी. इसके अलावा वनडे और टी20 सीरीज भी उस दौरे में खेले जाएंगे.