Ind vs SL : एक चोट ने छीन लिया भारत के इस युवा से वनडे डेब्यू का मौका

 भारत और श्रीलंका (India vs Sri Lanka) के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज की शुरुआत रविवार से हो चुकी है. आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले जा रहे पहले वनडे में श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. टॉस के समय इस दौरे पर भारतीय टीम के कप्तान शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने जब टीम का ऐलान किया तो उसमें एक वो नाम नहीं था जिसकी उम्मीद शायद हर कोई कर रहा था. वो नाम है विकेटकीपर-बल्लेबाज संजू सैमसन (Sanju Samson). धवन की टीम में संजू को जगह नहीं मिली जबकि इशान किशन और सूर्यकुमार दोनों अपना वनडे डेब्यू कर रहे हैं. संजू का नाम न देखकर सभी हैरान हुए लेकिन अब इसकी वजह सामने आई है.

बीसीसीआई ने बताया है कि संजू इस मैच में चयन के लिए उपलब्ध नहीं हैं और इसका कारण उनकी चोट है. उन्हें घुटने में लिगामेंट में परेशानी हुई है और इसी कारण वह इस मैच में नहीं खेल रहे हैं. बीसीसीआई ने कहा, “संजू सैमसन को घुटने में लिगामेंट में दिक्कत है और इसलिए वह इस मैच (पहले वनडे) में चयन के लिए उपलब्ध नहीं हैं. मेडिकल टीम इस समय उन पर नजर बनाए हुए है.”

इशान किशन के ऊपर मिलती तरजीह!

संजू अगर फिट होते तो संभवतः वह वनडे डेब्यू करते और हो सकता है कि ऐसे में इशान को बाहर बैठना पड़ता. यह दोनों विकेटकीपर हैं. संजू टीम में नहीं हैं इसलिए इशान विकेटकीपर की जिम्मेदारी निभा रहे हैं. आज इशान का जन्मदिन भी है. संजू को टीम में जगह बनाने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा है. वह भारत के लिए टी20 तो खेल चुके हैं लेकिन वनडे में उन्हें अभी तक जगह नहीं मिली. यह दौरा उनके लिए इस प्रारूप में अपनी छाप छोड़ने का मौका है. संजू ने अभी तक भारत के लिए कुल सात टी20 मैच खेले हैं और 83 रन बनाए हैं.

कुल-चा की हुई वापसी

इस मैच में भारत की एक पुरानी जोड़ी भी वापसी कर रही है और यह जोड़ी है दो स्पिनरों की. हम बात कर रहे हैं कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी की. यह दोनों दो साल बाद टीम इंडिया में एक साथ खेल रहे हैं. पिछली बार दोनों साल 2019 में इंग्लैंड में हुए वर्ल्ड कप में एक साथ खेले थे. लीग राउंड में इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले में दोनों प्लेइंग इलेवन का हिस्सा था. इसके बाद से टीम इंडिया ने कई सीरीज खेलीं, लेकिन इन दोनों को साथ खेलने का मौका नहीं मिला. दोनों अब तक 34 वनडे एक साथ खेल चुके हैं. इन 34 में से भारत ने 24 में जीत हासिल की है, नौ में उसे हार मिली और एक मुकाबला टाई रहा. दोनों ने मिलकर 34 वनडे में 118 विकेट लिए हैं. इनमें से 65 विकेट कुलदीप यादव के नाम है वहीं युजवेंद्र चहल ने 53 विकेट लिए हैं.