पर्सनल लोन लेने से सही है गोल्ड लोन… तुरंत पैसे जुगाड़ने का है जबरदस्त ऑप्शन

 अक्सर होता है अचानक पैसों की आवश्यकता हो जाती है और लॉकडाउन में ये परिस्थिति काफी लोगों के सामने आ रही है. ऐसी स्थिति में लोगों को पैसे के लिए लोन का सहारा लेना पड़ता है और अक्सर इस परिस्थिति में लोग पर्सनल लोन लेते हैं. कहा जाता है कि पर्सनल लोन आसानी से मिल जाता है, लेकिन थोड़ा महंगा पड़ता है. लेकिन, अगर आपके घर पर सोना रखा है तो आप इस पर भी लोन ले सकते हैं और कई मायनों में गोल्ड लोन फायदे का सौदा हो सकता है.

ऐसे में आज हम आपको बताते हैं कि गोल्ड लोन किन-किन परिस्थितियों में फायदेमंद होता है. साथ ही आपको बताएंगे गोल्ड लोन के नियम क्या है और यह पर्सनल लोन से किस तरह बेहतर ऑप्शन साबित हो सकता है. जानते हैं गोल्ड लोन से जुड़ी हर एक बात…

ब्याज की दर

गोल्ड लोन की सबसे खास इसकी इंट्रेस्ट रेट होती है. दरअसल, गोल्ड लोन एक तरह से सिक्योर्ड लोन है और इस वजह से इसकी ब्याज की दर काफी कम होती है और यह पर्सनल लोन से काफी सस्ता पड़ सकता है. इसमें आपका गोल्ड उनके पास रहता है तो बैंक को पैसे की टेंशन नहीं होती है.

लोन अमाउंट

गोल्ड लोन में अपने सोने के हिसाब से 10 हजार से लेकर 1 करोड़ तक का लोन ले सकते हैं. इसमें आप अपने सोने के 75 फीसदी हिस्से के दाम का लोन प्राप्त कर सकते हैं. इसमें 22 कैरेट के गोल्ड के आधार पर लोन अमाउंट की गणना की जाती है. अगर कम कैरेट का सोना होता है तो उसके हिसाब से लोन अमाउंट तय किया जाता है.

रिपेमेंट ऑप्शन

गोल्ड लोन की खास बात ये है कि इसमें रिपेमेंट के कई ऑप्शन मिलते हैं. इसमें आप सिर्फ इंट्रेस्ट का भी भुगतान कर सकते हैं या फिर आप पैसे होने पर इसका कभी भी वापस भुगतान कर सकते हैं. साथ ही खास बात ये है कि इसमें इंट्रेस्ट पहले देने का टेंशन नहीं होता है, जिससे ये लोन सस्ता भी पड़ता है.

ना ज्यादा कागजी कार्रवाई

इस लोन में आपको ज्यादा कागजी कार्रवाई करने की आवश्यकता नहीं होती है. इसमें बस आपके पास सोना होना चाहिए और 21 साल से 65 साल उम्र तक लोग अप्लाई कर सकते हैं. इस लोन में प्रोसेसिंग फीस भी काफी कम होती है और क्रेडिट स्कोर भी ज्यादा मेटर नहीं करता है. आप एक दिन में पूरी कार्रवाई करके लोन हासिल कर सकते हैं.