रेलयात्री कृपया ध्यान दें! अब स्लीपर के खर्चे में उठाएं एसी इकोनॉमी क्लास का लुत्फ, ऐसी होंगी सीटें

 नई दिल्ली. रेलवे यात्रियों के लिए एक अच्छी खबर है. आने वाले दिनों में वे स्लीपर क्लास के किराए में ट्रेनों में एसी इकोनॉमी क्लास में सफर का लुत्फ ले सकेंगे. दरअसल भारतीय रेलवे इन दिनों अपनी पुराने कोचस को अपग्रेड करने में तेजी से लगा हुआ है. लॉकडाउन के दौरान से भरतीय रेलवे ने ट्रेनों का कायापलट करना शुरू कर दिया है. जिसके चलते ही भारतीय रेलवे ( India Railway) जल्दी ही ट्रेनों में एसी इकोनॉमी क्लास ( AC-Economy Class) की शुरुआत करने के लिए पूरी तरह से तैयार है. यह भारत में ट्रेन में यात्रा करने के लिए एक नया क्लास होगा. इकोनॉमी क्लास के कोच को भारतीय रेलवे के कई जोन में अब तक कुल 27 कोच दिए गए हैं. इस नए एसी-इकोनॉमी कोचों को पश्चिम रेलवे के तहत दुरंतो ट्रेन और देश के अन्य हिस्सों में चलने वाली ट्रेनों के साथ पहले जोड़ा जाएगा. इकोनॉमी क्लास के कोच में 72 बर्थ हो सकते हैं, जबकि मौजूदा एसी-3 में 83 बर्थ होते हैं। फिलहाल रेलवे बर्ड इस क्लास का किराया तय करने की प्रक्रिया में है.


रेल मंत्रालय लेगा किराए पर लेगा औपचारिक फैसला
इंडियन रेलवे का मानना है कि इस इकोनॉमिक क्लास का किराया उतना रखा जाए, जो आमतौर पर स्लीपर यानी नॉन एसी का टिकट खरीदते हैं. हालांकि ज्यादातर लोग इसका किराया थर्ड एसी के बराबर रखने के पक्ष में है. अधिकारियों के मुताबिक मई महीने से यह मामला लटका हुआ है. रेल मंत्रालय जल्द ही इसके किराए पर औपचारिक रूप से फैसला ले सकता है.


एक्सट्रा बर्थ के लिए अलग से बे बनाया जाएगा
नया AC-Economy class का डिजाइन बिना AC स्लीपर क्लास का अपग्रेड माना जा रहा है. यह लगभग AC-3 टियर के जैसा ही होगी. इसमें एक्सट्रा बर्थ के लिए अलग से बे बनाया जाएगा. इस बीच एक रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि एसी इकोनॉमी क्लास का नाम 3E रखा जा सकता है. ताकि आरक्षण कराते समय सहूलियत रहे.बता दें कि एक दशक पहले गरीब रथ ट्रेनों में एसी इकोनॉमी क्लास की शुरुआत की गई थी, लेकिन यह सफल साबित नहीं हुआ. इसकी वजह ये रही कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को ले जाने के लिए इसमें एक्सट्रा मिडिल बर्थ लगा दिए गए थे. लिहाजा यह आरामदाय साबित नहीं हुआ. हालांकि बाद में इस क्लास हटा दिया गया था.

ऐसी होंगी सीटें
इस बार रेल कोच फैक्ट्री कपूरथला (Kapurthala) में खास तौर पर एसी इकोनॉमी क्लास के कोच तैयार किए गए हैं. कोच मॉड्यूलर बनाए गए हैं ताकि यात्रियों को सफर करने में परेशानी नहीं हो. इसमें फोल्डेबल स्नैक्स टेबल, वॉटर बोतल, मैगजीन और मोबाइल फोन रखने की जगह भी बनाई गई है. रीडिंग लाइट्स, मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट और स्टैंडर्ड सॉकेट भी हर बर्थ के साथ लगाया गया है.