ENG W vs IND W: अब हारे तो सब हारे… भारत और इंग्लैंड के बीच दूसरा T20 मुकाबला आज

 टेस्ट में मुकाबला बराबरी का रहा. 3 वनडे की सीरीज में 2-1 से चोट खाई. T20 सीरीज में भी टीम इंडिया (Team India 0-1 से पिछड़ रही है. लेकिन, पूरी बाजी अभी खत्म नहीं हुई है. हरमनप्रीत एंड कंपनी (Harmanpreet Kaur & Company) अगर आज मुकाबला जीत लेती है तो सीरीज बराबरी पर आ जाएगी. और इससे उसकी सीरीज जीत की उम्मीदें बरकरार रख सकती हैं. लेकिन भारतीय टीम ने अगर आज ऐसा नहीं किया तो दूसरा T20 तो हाथ से जाएगा ही जाएगा, सीरीज भी गंवानी पड़ेगी.

नॉर्थैम्प्टनशर में खेले पहले T20 में इंग्लैंड ने डकवर्थ लुईस नियम से भारत को 18 रन से हराया था. इंग्लैंड ने पहले खेलते हुए भारत के सामने जीत के लिए 178 रन का लक्ष्य रखा था, जवाब में भारत का स्कोर 3 विकेट पर जब 54 रन था, मैच में बारिश ने दखल दे दिया, जिसके बाद मैच रूका तो फिर दोबारा शुरू नहीं हो सका.

बल्लेबाजी में करो सुधार, जीत का करो दीदार

भारत को दूसरा T20 जीतना है तो उसे अपनी बल्लेबाजी में सुधार करना होगा. उसके मेन बल्लेबाजों को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी. भारत की बल्लेबाजी उसके वनडे सीरीज गंवाने का भी एक बड़ा कारण बनी थी. और अब वही हाल T20 सीरीज में भी दिख रहा है. इंग्लैंड दौरे पर भारत की बल्लेबाजी की सबसे कमजोर कड़ी T20 की कप्तान हरमनप्रीत कौर रही हैं. वो अब तक खेली 7 पारियों में सिर्फ 49 रन ही बना सकी हैं. इसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 19 रन का रहा है.

आज जीत जरूरी है!

आज अगर भारत की बल्लेबाजी में सुधार हुआ तो वो जीतेगी भी और इंग्लैंड में उसका T20 का रिकॉर्ड भी दुरुस्त होगा. भारत ने अब तक इंग्लैंड में 12 T20 खेले हैं, जिसमें सिर्फ 4 जीते हैं. इनमें इंग्लैंड के खिलाफ उसने 6 T20 खेले हैं और 1 जीता है. पहले T20 में भारत की फील्डिंग जबरदस्त रही थी. दूसरे T20 में भी उसी की दरकार रहेगी. भारतीय महिलाओं ने अगर आज इंग्लैंड के खिलाफ अपना बेस्ट दे दिया. तो नि:संदेह वो सीरीज जीत की हकदार बन सकती है. और फिर इंग्लैंड दौरे का अंत भी बेहतर यादों के साथ कर सकती हैं.