40 साल के भारतीय गेंदबाज की कातिलाना बॉलिंग, 24 गेंद में 10 रन देकर लिए 5 विकेट, मुंबई इंडियंस के लिए खेला है IPL

 देश की टॉप क्लास घरेलू टी20 लीग में से एक तमिलनाडु प्रीमियर लीग 2021 (Tamil Nadu Premier League 2021) का आगाज हो चुका है. 20 जुलाई को आईड्रीम तिरुप्पुर तमिलंस (iDream Tiruppur Tamizhans) और चेपॉक सुपर गिल्लीज (Chepauk Super Gillies) के बीच मुकाबले के दौरान एक 40 साल के खिलाड़ी की गेंदबाजी का जादू देखने को मिला. इस खिलाड़ी ने चार ओवर में केवल 10 रन देकर पांच विकेट चटकाए और विरोधी टीम की बैंड बजा दी. इस खिलाड़ी का नाम राजगोपाल सतीश है और वह चेपॉक सुपर गिल्लीज के लिए खेलते हैं. उनकी जादुई गेंदबाजी के आगे तिरुप्पुर तमिलंस टीम के बल्लेबाजों ने घुटने टेक दिए और 62 रन पर ही उसके सात विकेट गिर गए. यह तो भला तो आठवें नंबर के एम मोहम्मद और नौवें नंबर के अश्विन क्रिस्ट का जिन्होंने आठवें विकेट के लिए 28 रन जोड़ दिए नहीं तो तिरुप्पुर टीम के सात विकेट केवल 36 रन ही गिर गए थे. उसके टॉप के सात बल्लेबाजों में से कोई भी खाता नहीं खोल पाया था.

मैच में चेपॉक सुपर गिल्लीज ने टॉस जीतकर बॉलिंग चुनी थी. कप्तान के इस फैसले को राजगोपाल सतीश ने सही साबित किया और मैच की दूसरी ही गेंद पर ओपनर एस दिनेश को खाता खोलने से पहले ही निपटा दिया. अगले ओवर ही पहली ही गेंद पर देव राहुल ने एस सिद्धार्थ को एक रन के स्कोर पर रवाना कर दिया. इसके बाद तो राजगोपाल सतीश की गेंदों ने कत्लेआम मचा दिया. उन्होंने तीसरे ओवर में लगातार दो गेंद में एस अरविंद (7) और फ्रांसिस रॉकिंस (0) को निपटा दिया. इससे तमिलंस का स्कोर चार विकेट पर 15 रन हो गया.

फिर लगातार दो ओवरों में तुषार रहेजा (6) और आर राजकुमार (0) को भी वापस भेज दिया. ऐसे में तमिलंस का स्कोर 24 रन पर छह विकेट हो गया. इस दौरान मान बाफना छह रन बनाकर रन आउट हो गए और तमिलंस टीम के जख्मों पर नमक लग गया.

आईपीएल में खेल चुके हैं राजगोपाल

इस दौरान राजगोपाल सतीश ने अपना स्पैल खत्म किया और 10 रन देकर पांच विकेट लिए. उन्होंने अपने चार ओवर में एक भी चौका-छक्का नहीं दिया. यह टी20 क्रिकेट में उनका सबसे अच्छा प्रदर्शन है. राजगोपाल सतीश आईपीएल में मुंबई इंडियंस, किंग्स इलेवन पंजाब और कोलकाता नाइटराइडर्स जैसी टीमों के लिए खेले हैं. जब लग रहा था कि तिरुप्पुर तमिलंस की टीम 50 रन से पहले ही निपट जाएगी तब कप्तान एम मोहम्मद ने अश्विन क्रिस्ट के साथ मिलकर टीम को संभाला. मोहम्मद ने एक छोर थाम लिया तो क्रिस्ट ने कुछ आतिशी शॉट लगाकर स्कोर को चलाया. दोनों ने आठ ओवर बैटिंग की और कोई विकेट नहीं गिरने दिया. तभी बारिश आ गई और मैच को रोकना पड़ा मैच रोके जाने के समय तिरुप्पुर तमिलंस का स्कोर 16.2 ओवर में सात विकेट पर 64 रन था.