7 दिन, 1 साल या 10 साल… यहां जान लीजिए SBI एफडी पर किस प्लान में कितना ब्याज देता है?

 अक्सर लोग एफडी में पैसे निवेश करते वक्त यह ध्यान में रखते हैं कि उन्हें अपने पैसे पर अच्छा रिटर्न भी मिल जाए और इसके अलावा उनका पैसे सुरक्षित भी रहे. ऐसे में लोग सरकारी बैंक जैसे स्टेट बैंक ऑफ इंडिया या पंजाब नेशनल बैंक आदि पर ज्यादा भरोसा जताते हैं. सरकारी बैंकों में भले ही इंट्रेस्ट रेट कम हो, लेकिन लोग एसबीआई में पैसे निवेश करना ज्यादा सही फैसला मानते हैं.

ऐसे में आज हम आपको एसबीआई के एफडी के प्लान्स के बारे में बता रहे हैं, जिससे आपको एसबीआई के सभी एफडी प्लान के इंट्रेस्ट रेट के बारे में पता चल जाएगा. इससे आप ये फैसला ले पाएंगे कि आपको एसबीआई में कितना ब्याज मिलेगा और कितने दिन के लिए निवेश करना ज्यादा सही ऑप्शन है. आइए जानते हैं एसबीआई एफडी से जुड़ी खास बातें…

दरअसल, एसबीआई ग्राहकों को 7 दिन से 10 साल तक निवेश करने का अवसर देता है यानी आप बैंक में अपने पैसे की 7 दिन के लिए एफडी भी करवा सकते हैं और 10 साल के लिए भी पैसे निवेश कर सकते हैं. ऐसे में हर साल के हिसाब से अलग अलग इंट्रेस्ट रेट तय की गई है. आप जितने ज्यादा दिन तक पैसे निवेश करते हैं, आपको उतना ही ज्यादा इंट्रेस्ट मिलता है.

साल के हिसाब से जानते हैं कि किसमें कितना इंट्रेस्ट मिल रहा है…

– 7 दिन से 45 दिन के लिए 2.90 फीसदी इंस्ट्रेस्ट मिलता है, जबकि सीनियर सिटीजन को 3.40 की दर के हिसाब से ब्याज मिलेगा.

– 46 दिन से 179 दिन के लिए 3.90 फीसदी इंस्ट्रेस्ट मिलता है, जबकि सीनियर सिटीजन को 4.40 की दर के हिसाब से ब्याज मिलेगा.

– 180 दिन से 1 साल के लिए 4.40 फीसदी इंस्ट्रेस्ट मिलता है, जबकि सीनियर सिटीजन को 4.90 की दर के हिसाब से ब्याज मिलेगा.

– 1 साल से से 2 साल तक के लिए 5.00 फीसदी इंस्ट्रेस्ट मिलता है, जबकि सीनियर सिटीजन को 5.40 की दर के हिसाब से ब्याज मिलेगा. बता दें कि हाल ही में इसमें बदलाव किया गया है, वरना इससे पहले 5 फीसदी की जगह 4.90 फीसदी ब्याज मिलता था.

– 2 साल से 3 साल तक के लिए 5.10 फीसदी इंस्ट्रेस्ट मिलता है, जबकि सीनियर सिटीजन को 5.60 की दर के हिसाब से ब्याज मिलेगा.

– 3 साल से 5 साल तक के लिए 5.30 फीसदी इंस्ट्रेस्ट मिलता है, जबकि सीनियर सिटीजन को 5.80 की दर के हिसाब से ब्याज मिलेगा.

– 5 साल से 10 साल तक के लिए 5.40 फीसदी इंस्ट्रेस्ट मिलता है, जबकि सीनियर सिटीजन को 6.20 की दर के हिसाब से ब्याज मिलेगा.

एफडी लेते समय किन बातों का रखें ध्यान?

पहले तो आपको बता दें कि एफडी में यह ब्याज दर एक साल के हिसाब से बताई जाती है और उसके हिसाब से ही इंट्रेस्ट मिलता है. इसके अलावा ये सभी रेट 2 करोड़ से कम रुपये निवेश करने वालों के लिए हैं. अगर आप इससे ज्यादा निवेश कर रहे हैं तो इसके लिए अलग नियम और इंट्रेस्ट रेट है. साथ ही अगर आप ज्यादा निवेश करना चाहते हैं तो अलग अलग बैंक में निवेश करें, क्योंकि एक बैंक के डूबने पर आपका 5 लाख रुपये तक का अमाउंट ही सिक्योर रह पाता है.