IND vs SL: राहुल द्रविड़ के मास्टरस्ट्रोक से जीती टीम इंडिया, भुवनेश्वर कुमार ने किया खुलासा

 नई दिल्ली. भारत के उप-कप्तान भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) ने कहा कि दीपक चाहर (Deepak Chahar) को ऊपर भेजने का फैसला कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) का था. चाहर की जबरदस्त बल्लेबाजी की बदौलत भारत ने श्रीलंका (India vs Sri Lanka) को दूसरे वनडे में तीन विकेट से मात दी. चाहर ने नाबाद 69 रनों की पारी खेली और भुवनेश्वर (19*) के साथ आठवें विकेट के लिए 84 रन की अटूट साझेदारी कर भारत को सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त दिलाई.


भुवनेश्वर ने मैच के बाद कहा, हमारा लक्ष्य आखिरी गेंद तक खेलना था और दीपक ने जिस तरह से बल्लेबाजी की वह अद्भुत था. देखि, वह भारत ए या किसी सीरीज में पहले कोच राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में खेल चुके हैं और वहां भी उन्होंने रन बनाए थे. इसलिए, द्रविड़ को पता था कि वह बल्लेबाजी कर सकता है और वह कुछ गेंदों को हिट कर सकता है. इसलिए वह द्रविड़ का कॉल था. चाहर ने इस फैसले को सही साबित किया. हम सभी जानते हैं कि वह बल्लेबाजी कर सकते हैं, उन्होंने कई बार रणजी ट्रॉफी में बल्लेबाजी की है, इसलिए यह कठिन फैसला नहीं था, लेकिन जिस तरह से उन्होंने रन बनाए, उसे देखना अच्छा है.”


जीत के लिए 276 रनों का पीछा करते हुए एक समय भारत 193 पर 7 विकेट खोकर संघर्ष कर रहा था, लेकिन चाहर और भुवनेश्वर ने टीम इंडिया को पांच गेंद शेष रहते यादगार जीत दर्ज करने में मदद की.
भुवनेश्वर ने कहा, ”चाहर ने कोई जोखिम भरा शॉट नहीं खेला. उन्होंने कुछ चौके लगाए और जरूरी रेट को छह से कम कर दिया. हमने कभी नहीं सोचा था कि हम जीतेंगे या हारेंगे. हम स्थिति के अनुसार खेल रहे थे. इस मैच में तीन विकेट लेने वाले भुवी ने बताया कि टीम इंडिया को पहली बार कोचिंग दे रहे द्रविड़ इस प्रदर्शन से उत्साहित थे. जब मैं बल्लेबाजी कर रहा था तो मैंने उन्हें ज्यादा नहीं देखा, लेकिन मैच के बाद द्रविड़ ने हम दोनों और पूरी टीम को बधाई दी. द्रविड़ बहुत खुश थे.”