इस RD खाते में 5,000 रुपये से शुरू करें निवेश, 6 साल बाद मिलेंगे 4.26 लाख रुपये

 हर महीने कुछ हजार रुपये जोड़कर महज कुछ ही साल में लाखों रुपये बनाया जा सकता है. यह सुविधा रिकरिंग डिपॉजिट (RD) प्लान में ज्यादा मिलती है. बैंक अपने ग्राहकों के लिए कई प्लान चलाते हैं, लेकिन उनमें आरडी का विशेष महत्व है. सरकारी और प्राइवेट दोनों तरह के बैंक ग्राहकों को आरडी में जमा पैसे पर अच्छा खासा ब्याज देते हैं. अब तो कई बैंक आरडी खाता खोलने के लिए ऑनलाइन सुविधा दे रहे हैं. ग्राहक घर बैठे मोबाइल या लैपटॉप से यह खाता खोल सकते हैं और अपना निवेश शुरू कर सकते हैं.

आईसीआईसीआई बैंक मोबाइल ऐप आई मोबाइल के जरिये आरडी खाता खोलने और निवेश की इजाजत देता है. इस ऐप को मोबाइल फोन में डाउनलोड करना होता है. खाते में जमा राशि से पैसे अपने आप हर महीने कटते जाएंगे और निवेश होता जाएगा. इसी तरह इंटरनेट बैंकिंग में भी ग्राहकों को यह सुविधा मिलती है. इसी तरह आईसीआईसीआई बैंक फ्लेक्सिबल रिकरिंग डिपॉजिट की भी सुविधा देता है.

कैसे करें निवेश

अगर आप सामान्य ग्राहक हैं यानी कि सीनियर सिटीजन नहीं हैं तो नॉर्मल आरडी का खाता खुलवा सकते हैं. इस खाते में आप कम से कम 5,000 रुपये से निवेश शुरू कर सकते हैं. मान लीजिए आपने 6 साल के लिए आरडी खाता शुरू किया है. इस पर 5.5 परसेंट का ब्याज मान कर चलें तो इसकी मैच्योरिटी जुलाई 2027 में होने तक अच्छी-खासी राशि जुट जाएगी. 6 साल बाद इस जमा राशि पर 66,975 रुपये के ब्याज की कमाई होगी. इस तरह 6 साल में कुल 4,26,975 रुपये जुट जाएंगे. यानी कि हर महीने 5,000 रुपये चुकाकर कोई ग्राहक आराम से 4,26,975 रुपये जुटा लेगा.

आरडी पर ब्याज दर

आईसीआईसीआई बैंक आरडी की अवधि के हिसाब से ब्याज देता है. सबसे कम 6 महीने के लिए सामान्य लोगों को 3.50 परसेंट और सीनियर सिटीजन को 4 परसेंट के हिसाब से ब्याज दिया जाता है. अगर आरडी खाता 3 साल से 5 साल के लिए खोला जाता है तो सामान्य लोगों को 5.36 परसेंट और सीनियर सिटीजन को 5.85 परसेंट ब्याज दिया जाता है. 5 साल से 10 साल के आरडी पर सामान्य लोगों को 5.50 और सीनियर सिटीजन को 6.30 परसेंट का ब्याज दिया जाता है. रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट कम से कम 6 महीने के लिए खोला जा सकता है. इस खाते की मियाद 3 महीने के मल्टीपल में बढ़ाई जा सकती है. आरडी खाता अधिकतम 10 साल तक चलाया जा सकता है.

समय पर प्रीमियम नहीं भरने पर क्या होगा

अगर प्रीमियम समय पर नहीं चुकाते हैं तो मंथली ब्याज पर प्रति हजार 12 रुपये के रूप में पेनाल्टी वसूली जाती है. बैंक की तरफ से जब ब्याज की गणना करने की बात आती है तो वह महीने के कुछ दिनों को पूरे महीने के तौर पर गिनती करता है. पेनाल्टी के रूप में पैसे की वसूली मैच्योरिटी के समय जमा हुए ब्याज के पैसे में से काटे जाते हैं.

कौन खोल सकता है RD खाता

भारत का कोई भी नागरिक आरडी अकाउंट खोल सकता है. खाते में कम से कम 500 रुपये जमा करने होंगे, उसके बाद 100 रुपये के मल्टीपल में पैसे जोड़े जा सकते हैं. खाता खोलने के लिए पहचान पत्र के रूप में पासपोर्ट, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, सरकारी आईडी कार्ड और सीनियर सिटीजन आईडी कार्ड दे सकते हैं. इसी तरह, एड्रेस प्रूफ के लिए पासपोर्ट, टेलीफोन बिल, इलेक्ट्रीसिटी बिल, चेक के साथ बैंक स्टेटमेंट या पोस्ट ऑफिस की ओर से जारी सर्टिफिकेट आईडी जमा करा सकते हैं.