टीम इंडिया में कदम रखते ही राहुल द्रविड़ के चेले ने बनाया ऐसा रिकॉर्ड जो कोई सोच भी नहीं सकता, बस सचिन से रह गया पीछे

 श्रीलंका के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज के आखिरी मुकाबले में पांच भारतीय खिलाड़ियों का एकदिवसीय डेब्यू हुआ. मगर इस डेब्यू में भी विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन (Sanju Samson) एक अनचाहा रिकॉर्ड अपने नाम कर गए. मगर भी वो इस मामले में क्रिकेट के भगवान माने जाने वाले सचिन तेंदुलकर से बहुत पीछे हैं. श्रीलंका के खिलाफ संजू सैमसन के अलावा चेतन साकरिया, कृष्णपा गौतम, नीतीश राणा और राहुल चाहर को वनडे कैप मिली है.

दरअसल, संजू सैमसन टी-20 अंतरराष्ट्रीय में डेब्यू करने के बाद सबसे लंबे अंतराल पर वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया है. यह किसी भी खिलाड़ी द्वारा वनडे में डेब्यू करने से पहले T20 अंतरराष्ट्रीय खेलने के बाद सबसे लंबा अंतराल है.

सचिन और सैमसन के आंकड़े में क्या है फर्क

संजू सैमसन ने अपना पहला T20 इंटरनेशनल खेलने के 2196 दिनों के बाद ODI में पदार्पण किया. सचिन तेंदुलकर मामले में यह उल्टा है. दरअसल, जब सचिन ने वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया था, तब टी-20 फॉर्मेंट आया नहीं था. उनके वनडे डेब्यू के लगभग डेढ़ दशक के बाद यह इस फॉर्मेट को आईसीसी ने लाया था. इसलिए सचिन का वनडे से टी-20 में डेब्यू का अंतराल बहुत लंबा है.

सचिन ने खेला है सिर्फ एक टी-20 मैच

सचिन तेंदुलकर ने अपने वनडे डेब्यू के 6192 दिन बाद T20 करियर की शुरुआत की थी. सचिन का टी-20 डेब्यू 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था. यही उनका पहला और आखिरी टी-20 मुकाबला था. इसमें सचिन ने 10 रन बनाए थे. वनडे में सचिन ने 18,426 रन बनाते हुए 49 शतक लगाए हैं.

कमाल नहीं दिखा सके हैं संजू

संजू सैमसन ने छह साल पहले ही ज़िम्बाब्वे के खिलाफ 2015 में अपना टी-20 डेब्यू किया था. इसके बाद उन्हें और भी मौके मिले, लेकिन उसमें वो अपना कमाल नहीं दिखा पाए. आईपीएल में संजू सैमसन ने अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है. मगर इंटरनेशनल क्रिकेट के 7 टी-20 मुकाबले खेलने के बाद भाी 25 से ज्यादा का आंकड़ा अब तक वो पार नहीं कर पाए हैं. ऐसे में श्रीलंका खिलाफ वनडे मिला मौका टी-20 विश्व कप के लिए टीम में जगह बनाने के लिए मदद कर सकता है.