Axis Bank ने अपने करोड़ों ग्राहकों को दी बड़ी खुशखबरी, घट गए आपके बैंक अकाउंट से जुड़े ये चार्जेज

 प्राइवेट सेक्‍टर के एक्सिस बैंक ने अपने करोड़ों ग्राहकों को बड़ी खुशखबरी दी है. एक्सिस बैंक ने कई तरह की सर्विसेज और सेफ डिपॉजिट लॉकर से लेकर नील सैलरी क्रेडिट फीस पर लगने वाले चार्जेज को कम कर दिया है. नये चार्जेज को 1 जुलाई 2021 से लागू भी कर दिया गया है. इस बदलाव के बाद से अब एक्सिस बैंक ग्राहकों को अकाउंट में न्‍यूनतम बैलेंस मेंटेन करने की अनिवार्यता, एटीएम ट्रांजैक्‍शन चार्जेज, चेकबुक जारी करवाने का चार्ज, SMS अलर्ट, कैश ट्रांजैक्‍शन फीस, डुप्‍लीकेट पासबुक और डुप्‍लीकेट स्‍टेटमेंट फीस कम हो चुका है.

एक्सिस बैंक ने इस रिवीज़न के बारे में जानकारी अपने आधिकारिक वेबसाइट पर भी दिया है. बैंक ने यहां लिखा, ‘हम लगातार अपनी सेवाओं को बेहतर बना रहे और सबसे बेस्‍ट सर्विसेज देने का प्रयत्‍न कर रहे हैं. हम यह बताना चाहते हैं एक्सिस बैंक ने कई तरह की सर्विसेज पर चार्जेज को कम करने का फैसला लिया है. इसे 01 जुलाई 2021 से लागू भी कर दिया गया है.’ आइए जानते हैं कि अब नये चार्जेज क्‍या हैं.

इन चुनिंदा सर्विसेज पर कम हुए चार्जेज

  • घरेलू अकाउंट में औसत न्‍यूनतम बैलेंस नहीं रखने पर अब प्रति 100 रुपये की कमी पर 5 रुपये का चार्ज लगेगा. पहले यह 10 रुपये था. मेट्रो और शहरी क्षेत्रों में इसके लिए मिनिमम 75 रुपये और अधिकतम 500 रुपये वसूले जाएंगे. पहले ये चार्जेज क्रमश: 150 रुपये और 600 रुपये थे.
  • तिमाही आधार पर लगने वाला SMS चार्ज को भी रिवाइज कर दिया गया है. पहले यह 5 रुपये प्रति महीने के हिसाब से था. लेकिन, इस महीने से यह 25 पैसे प्रति SMS चार्ज कर दिया गया है. इसकी अधिकतम लिमिट 15 रुपये प्रति तिमाही से अधिक नहीं हो सकती है. यह चार्ज OTP और प्रोमोशनल ऑफर्स वाले SMS पर नहीं लागू होगा.
  • बैंक अकाउंट में मशीन के जरिए कैश जमा करने पर लगने वाले चार्ज को भी रिवाइज किया गया है. 30 जून तक यह चार्ज 50 रुपये प्रति ट्रांजैक्‍शन था. अब अगर शाम 5 बजे से लेकर सुबह 09:30 बजे के बीच कभी भी मशीन के जरिए कैश डिपॉजिट किया जाता है और यह रकम 5,000 रुपये से ज्‍यादा है तो इसके लिए 50 रुपये प्रति ट्रांजैक्‍शन लिया जाएगा.
  • चेकबुक जारी कराने के चार्ज को भी रिवाइज कर दिया गया है. अब चेकबुक के प्रति लीफ का चार्ज 2.5 रुपये होगा. पहले यह 5 रुपये प्रति लीफ था.
  • NPCI द्वारा ऑफर किए जाने वाले ECS/NACH ट्रांजैक्‍शन फीस को भी रिवाइज किया गया है. अब यह 25 रुपये प्रति ट्रांजैक्‍शन होगा. एक महीने में इसकी अधिकतम लिमिट 100 रुपये से अधिक नहीं हो सकती है.
  • अभी तक अगर एक्सिस बैंक ग्राहक एटीएम से कैश निकालते थे और उनके अकाउंट में पर्याप्‍त फंड नहीं होता था, तो उनसे पेनाल्‍टी वसूली जाती थी. हर बार के लिए यह चार्ज 25 रुपये होता था. अभी भी पर्याप्‍त बैलेंस नहीं होने के बाद एटीएम से कैश निकालने पर 25 रुपये देना होगा. लेकिन एक्सिस बैंक के एटीएम से पर्याप्‍त बैलेंस नहीं होने की स्थिति में ट्रांजैक्‍शन करने पर कोई चार्ज नहीं देना होगा.
  • एक्सिस बैंक से पता, फोटो, सिग्‍नेचर और बैलेंस सर्टिफिकेट जारी कराने के लिए 30 जून तक 100 रुपये लगता था. लेकिन अब इसे घटाकर 50 रुपये कर दिया गया है.
  • डुप्‍लीकेट पासबुक जारी कराने का चार्ज भी कम कर 75 रुपये कर दिया गया है. पहले यह 100 रुपये था.
  • डुप्‍लीकेट स्‍टेटमेंट फीस में भी बदलाव किया गया है. 30 जून तक यह 100 रुपये था, जोकि अब कम कर 75 रुपये कर दिया गया है.

डिपॉजिट लॉकर चार्ज

सालाना तौर पर लगने वाले सेफ डिपॉजिट चार्ज को भी कम कर दिया गया है. ग्रामीण बैंकों में एक्सिस बैंक के ग्राहकों को 1,500 रुपये सालाना की जगह अब 1,400 रुपये देने होंगे. जबकि, अर्ध-शहरी क्षेत्रों के लिए यह चार्ज 1,700 रुपये से कम कर 1,600 रुपये कर दिया गया है. मेट्रो और अन्‍य शहरों के लिए यह चार्ज 2,800 से 4,200 रुपये तक था, लेकिन अब इसे भी घटाकर 2,700 से 4,100 रुपये कर दिया गया है.

नील सैलरी क्रेडिट चार्ज

अगर किसी सैलरी अकाउंट में 6 महीने तक के लिए कोई सैलरी नहीं आता है तो पहले एक्सिस बैंक कोई चार्ज नहीं वसूलता था, लेकिन अब इसे रिवाइज कर दिया गया है. 1 जुलाई 2021 से इस तरह के सैलरी अकाउंट पर 100 रुपये प्रति महीने का चार्ज देना होगा.