सावधान! इन हाईवे पर ओवरस्‍पीड पड़ेगी भारी, ऑटोमेटिक कैमरे से फोटो खींच होगा चालान

 गाजियाबाद. अगले सप्‍ताह से दिल्‍ली मेरठ एक्‍सप्रेस वे (Delhi Meerut Expressway-DME), ईस्‍टर्न पेरीफेरल एक्‍सप्रेस वे (Eastern Peripheral ExpresswayEPE) और नेशनल हाईवे 9 (National Highway 9) पर ओवरस्‍पीड से वाहन चलाना या अन्‍य याातया नियमों की अनदेखी करना भारी पड़ेगा. गाजियाबाद ट्रैफिक पुलिस अगले सप्‍ताह से इन तीनों हाईवे पर लगे एएनपीआर (आटोमेटिक नंबर प्‍लेट रीडर) को पुलिस के सर्वर से जोड़ देगा,जिसके बाद फोटो के आधार पर वाहनों का चालान कर पुलिस वाहन स्‍वामी के मोबाइल पर मैसेज भेजेगी और चालान की कॉपी उसके रजिस्‍टर्ड पते पर स्‍पीड पोस्‍ट से जाएगा.


गाजियाबाद के ट्रैफिक पुलिस के एसपी रामानंद कुशवाहा ने बताया कि शुक्रवार को एनएचएआई और एजेंसियों के अधिकारियों के साथ बैठक हुई. अधिकारियों को जरूरी इंतजाम पूरे करने को कहा गया है.  साथ ही एनआईसी (राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र) के निदेशक को पत्र भेजकर सर्वर से इन हाईवे पर लगे एएनपीआर को पुलिस के सर्वर से जोड़ने के लिए कहा है. एएनपीआर चालू होने से यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों का चालान काटा जाएगा.साथ ही, अपराधियों पर भी शिकंजा कसेगा. बदमाशों की पहचान में भी ये एएनपीआर सहायता करेंगे.


एसपी ट्रैफिक के अनुसार चार कंट्रोल रूम से चालान कटेंगे. उन्‍होंने बताया कि जिले में अभी तक ओवरस्पीड के चालान इंटरसेप्टर के जरिये ही होते थे, जिनकी संख्या काफी कम रहती है. एनएचएआई ने डीएमई पर यूपी गेट से डासना, डासना से पिलखुवा, डासना से भोजपुर और ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर दुहाई से दादरी तक प्रत्येक दो किमी पर कैमरे लगाए हैं. इन कैमरों के लिए अलग अलग कंट्रोल रूम भी बनाए गए हैं, जो अगले सप्‍ताह चालू हो जाएंगे.