अगर आप भी YES Bank के ग्राहक तो 3-4 महीने नहीं मिलेंगे क्रेडिट कार्ड, जानिए क्या है वजह?

 नई दिल्ली. यस बैंक (Yes Bank) ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फेंस के दौरान कहा कि उसे अगले तीन से चार महीनों में क्रेडिट कार्ड (Credit Cards) फिर से जारी करने की उम्मीद है. बैंक की तरफ से यह बयान तब आया है जब मास्टरकार्ड (Mastercard) को नया कार्ड जारी करने पर बैन लगा दिया गया है. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने मास्टरकार्ड एशिया पैसेफिक पर 22 जुलाई से नए क्रेडिट, डेबिट और प्रीपेड कार्ड ग्राहक बनाने को लेकर बैन लगा दी है.


बैंक के MD और CEO प्रशांत कुमार ने कहा कि हमने क्रेडिट कार्ड के लिए रुपे के साथ पहले ही एक समझौते पर हस्ताक्षर कर लिए हैं और वीजा के साथ समझौते पर अगले सप्ताह हस्ताक्षर किए जाएंगे. हम अगले 90 से 120 दिनों में क्रेडिट कार्ड जारी करना शुरू करने की उम्मीद करते हैं.


इसलिए लिया गया यह फैसला
कंपनी द्वारा आंकड़ा रखरखाव नियमों का अनुपालन नहीं करने को लेकर यह कदम उठाया गया है. बैन का असर उन बैंकों पर काफी ज्यादा हुआ है, जिनके करार सिर्फ मास्टरकार्ड के साथ ही थे. यह बैंक की पूरी क्रेडिट कार्ड स्कीम मास्टरकार्ड के साथ जुड़ी हुई है. इसलिए अगले तीन से चार महीनों तक यस बैंक अपने ग्राहकों के लिए क्रेडिट कार्ड जारी नहीं कर पाएगा.

बैन होने से इन 5 बैंको पर पड़ेगा असर
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के मास्टरकार्ड पर प्रतिबंध लगाने के निर्णय से एक्सिस बैंक, यस बैंक और इंडसइंड बैंक सहित देश में पांच निजी बैंकों को नए कार्ड जारी करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा. आरबीआई ने दरअसल बुधवार को मास्टरकार्ड एशिया पैसेफिक पर 22 जुलाई से नये क्रेडिट, डेबिट और प्रीपेड कार्ड ग्राहक बनाने पर रोक लगा दी थी. कंपनी द्वारा आंकड़ों के देश में संग्रह करने के नियमों का अनुपालन नहीं करने को लेकर यह कदम उठाया गया.

SBI पर भी होगा असर
HDFC Bank भी इस निर्णय से प्रभावित होगा. लेकिन उस पर आरबीआई ने नए डेबिट,क्रेडिट और प्रीपेड कार्ड जारी करने को लेकर पहले से ही प्रतिबंध लगा रखा है. इन पांच बैंकों के अलावा बजाज फिनसर्व और सार्वजनिक क्षेत्र के स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया को भी कुछ परेशानियां का सामना करना पड़ सकता है. ये बैंक भी मास्टरकार्ड के जरिये नए कार्ड जारी करते हैं.