झारखंड की हेमंत सरकार को गिराने की साजिश !आरोप में तीन गिरफ्तार

 झारखंड की हेमंत सरकार को क्या गिराने की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए स्पेशल ब्रांच की टीम ने छापेमारी कर रांची के एक होटल से तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा उनके पास से काफी मात्रा में पैसे भी बरामद किये जाने की भी खबर है.

गिरफ्तार तीनों लोगों पर पर आईपीसी की धारा 419, 420, 124a, 120 बी, 34 और पीआर एक्ट की धारा 171 के साथ पीसी एक्ट की धारा 8 / 9 लगाया गया है. मिली जानकारी के अनुसार तीनों लोग सरकार के खिलाफ साजिश करते हुए गिरफ्तार हुए किये गये हैं. इनके नाम अमित सिंह, अभिषेक दुबे, और निवारण प्रसाद महतो बताया जा रहा है. इनमें से दो लोग कोलकाता के बताये जा रहे हैं. जो सरकारी कर्मचारी भी हैं. साथ ही जानकारी मिल रही है कि ये किसी बड़े उद्योगपति के संपर्क में थे.

सूत्रों ने जानाकरी मिली है कि तीनों लोग झारखंड के एक दर्जन विधायकों से सम्पर्क में थे. इसिलए इस पूरे मामले को विधायकों की खरीज फरोख्त से जोड़कर  देखा जा रहा है. जानकारी मिली है कि जितनी मात्रा में कैश बरामद की गयी है उससे अधिक अमाउंट की डिलीवरी हो चुकी है. फिलहाल कोतवाली थाना में प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है. पुलिस होटल ली लैक के सीसीटीवी और पूरे डिटेल खंगाल रही है.

बताया जा रहा है कि राज्य की हेमंत सरकार को अल्पमत में लाकर सरकार गिराने की योजना थी. इसकी जानकारी स्पेशल ब्रांच को लगी, जिसके बाद राजधानी के होटलों में छापेमारी की गयी और फिर तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

मामले को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता राजेश ठाकुर ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगात हुए कहा कि देश में जहां भी गैर भाजपा सरकार है वहां पर  भारतीय जनता पार्टी लगातार वहां की सरकार को गिराने के लिए साजिश करती नजर आ रही है. ऐसे में झारखंड में उनका यह प्रयास सफल नहीं होगा. झारखंड  सरकार ऐसे लोगों के खिलाफ मुहिम चलाकर उनके खिलाफ कार्रवाई करेगी. वहीं उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अपनी हरकतों से बाज आए.

वहीं बीजेपी प्रवक्ता प्रदीप सिन्हा ने कहा कि सत्ता पक्ष के लोग विपक्ष को बदनाम करने का प्रयास कर रहे हैं, जबकि हकीकत यह है कि सरकार में मौजूद विधायकों को मनाने के लिए, सत्ता के द्वारा प्लांट किए गए कुछ लोगों को स्पेशल ब्रांच की टीम ने गिरफ्तार किया है और अगर सरकार सच में चाहती है कि ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई हो तो उन सभी गिरफ्तार लोगों के नाम को सार्वजनिक करें. उन्होंने कहा कि राज्य में जेएमएम ओर कांग्रेस गठबंधन के बीच सबकुछ सही नहीं चल रहा है. कांग्रेस के विधायक सरकार में हिस्सेदारी लेने के लिए दबाव बना रहे हैं और दिल्ली की दौड़ लगा रहे हैं.