इंग्लैंड में इस भारतीय की दादागिरी, 493 रन, 70 की औसत और 158 का स्ट्राइक रेट फिर भी टीम बाहर

 भारतीय बल्लेबाज जेमिमा रॉड्रिग्स ने इंग्लैंड में शुरू हुए 100 बॉल के टूर्नामेंट The Hundred में 24 जुलाई को धमाका कर दिया. नॉर्दर्न सुपरचार्जर्स के लिए खेलते हुए उन्होंने महज 43 गेंदों पर नाबाद 92 रन उड़ा दिए. जेमिमा रॉड्रिग्स ने अपनी पारी में 17 चौके और एक छक्का लगाया. इससे उनकी टीम ने ‘द हंड्रेड’ प्रतियोगिता में वेल्स फायर पर छह विकेट से जीत दर्ज की. वेल्स फायर ने 100 गेंदों पर आठ विकेट पर 131 रन बनाए थे. इसके जवाब में सुपरचार्जर्स ने 85 गेंदों पर चार विकेट पर 131 रन बनाकर लक्ष्य हासिल किया.रॉड्रिग्स की यह पारी इसलिए भी महत्वपूर्ण रही क्योंकि सुपरचार्जर्स का स्कोर 18 गेंदों के बाद चार विकेट पर 19 रन था. रॉड्रिग्स ने इसके बाद जिम्मेदारी संभाली. उन्हें एलाइस डेविडसन रिचर्ड्स (28 गेंदों पर नाबाद 23 रन) का भी अच्छा साथ मिला. दोनों ने मिलकर आराम से अपनी टीम को जीत दिला दी. जेमिमा रॉड्रिग्स हालिया समय में फॉर्म में गिरावट का सामना कर रही थी लेकिन उन्होंने इस पारी से जोरदार वापसी करने के साथ ही आलोचकों को भी करारा जवाब दिया है.

जेमिमा रॉड्रिग्स हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के दौरान खराब फॉर्म से गुजरी थीं. फिर इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में भी वह रन नहीं बना पाई थीं. इसके चलते उन्हें टी20 सीरीज में खिलाया ही नहीं गया. उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दिया गया था. ऐसे में दी हंड्रेड के अपने पहले ही मैच में ताबड़तोड़ बैटिंग से जेमिमा ने धूम मचा दी है. साथ ही उन्होंने टी20 सीरीज में नहीं खिलाए जाने का भी करारा जवाब दिया है.इंग्लैंड में जेमिमा का टी20 क्रिकेट में जोरदार रिकॉर्ड है. उन्होंने यहां पर 11 पारियों में 158.52 की स्ट्राइक रेट और 70.42 की औसत से 493 रन बनाए हैं. वह इंग्लैंड में टी20 क्रिकेट में एक शतक और तीन फिफ्टी लगा चुकी है. उनकी पिछली तीन पारियों में तो यहां पर काफी रन बरसे हैं. जेमिमा ने इंग्लैंड की धरती पर अपनी पिछली तीन पारियां नाबाद 92 रन, 60 रन और नाबाद 112 रन की खेली हैं.

जेमिमा ने 2018 में भारत के लिए डेब्यू किया था. वह अब तक 21 वनडे में टीम इंडिया के लिए 19.70 की औसत से 394 रन बना चुकी हैं. इस दौरान जेमिमा ने तीन फिफ्टी लगाई हैं. वहीं वह भारत की ओर से 47 टी20 मुकाबले भी खेल चुकी हैं. इनमें 26.37 की औसत से उनके नाम 976 रन हैं. इस फॉर्मेट में वह छह अर्धशतक लगा चुकी हैं.