ग्राहक ने कहा- मुझे 25 लाख की लॉटरी लगी है, SBI खाते में आएंगे पैसे… तो बैंक ने दिया ये जवाब, आप भी रहें सतर्क

 स्टेट बैंक ऑफ इंडिया बैंक या कस्टमर केयर के अलाा ट्विटर के जरिए भी ग्राहकों की समस्या का निदान करता है. जो ग्राहक एसबीआई को टैग करते हुए अपनी समस्या सोशल मीडिया पर अपलोड करते हैं तो एसबीआई वहां भी ट्वीट के जरिए उन्हें जवाब देता है. ऐसे में बैंक ग्राहकों को इन ट्वीट्स के जरिए साइबर क्राइम से बचने के लिए टिप्स भी देता है ताकि ग्राहक फिशिंग का शिकार होते हैं.

दरअसल, साइबर क्राइम एक्सपर्ट लोगों को लुभावने वादे देकर अपने चंगुल में फंसाते हैं, ऐसे में ग्राहकों को इन वादों से बचना आवश्यक है. साथ ही यहां तक कि बैंक कर्मचारियों को भी अपनी गोपनीय जानकारी देने से बचना चाहिए. हाल ही में एक ग्राहक के साथ भी ऐसा हुआ, जिसकी जानकारी ग्राहक ने सोशल मीडिया के जरिए दी. इसके बाद बैंक ने बताया कि इस स्थिति में उन्हें क्या करना चाहिए.

एक बैंक ग्राहक ने ट्वविटर के जरिए बताया कि उन्हें एक मैसेज आया है, जिसमें कहा जा रहा है कि उन्हें 25 लाख रुपये की लॉटरी लगी है और वो 25 लाख रुपये उनके एसबीआई खाते में आने वाले हैं. ग्राहक ने वॉट्सऐप पर आए मैसज के स्क्रीनशॉट को भी शेयर किया है, जिसमें लॉटरी की बात कही गई है और कहा गया है कि उन्हें वॉट्सऐप कॉल करें. अब इस मैसेज पर एसबीआई बैंक ने जवाब दिया है और ग्राहक को बताया है कि वो ऐसे मैसेज पर कोई भी रेस्पॉन्ड ना करें.

क्या कहा एसबीआई बैंक ने?

बैंक ने अपने ट्वीट में कहा है- ‘हम हमेशा अपने ग्राहकों को सलाह देते हैं कि वे ऐसे ईमेल/पाठ संदेश/कॉल/एम्बेडेड लिंक का जवाब न दें, जो उनसे अपने व्यक्तिगत या बैंकिंग विवरण जैसे यूजर आईडी/पासवर्ड/डेबिट कार्ड नंबर/पिन/सीवीवी/ओटीपी आदि को सत्यापित/अपडेट करने के लिए कहते हैं. इस फ़िशिंग/स्मिशिंग/विशिंग) प्रयास/घटना पर तत्काल कार्रवाई करने के लिए, कृपया इस जानकारी को ईमेल के माध्यम से report.phishing@sbi.co.in पर साझा करें. साथ ही, अपने क्षेत्र से संबंधित कानून प्रवर्तन एजेंसी को घटना की रिपोर्ट करें.’

सोशल मीडिया पर शेयर ना करें?

अक्सर लोग सोशल मीडिया के जरिए बैंक से शिकायत करते हैं और शिकायत करते वक्त अपनी निजी जानकारी भी सोशल मीडिया पर शेयर कर देते हैं. ऐसे में बैंक का कहना है, ‘ कृपया सुरक्षा कारणों से अपनी बैंकिंग और व्यक्तिगत जानकारी यहां सार्वजनिक रूप से साझा न करें. इससे हुई क्षति के लिए बैंक उत्तरदायी नहीं होगा. हमारा सुझाव है कि इस पोस्ट को तुरंत हटा दें. यह अधिक उचित होगा कि आप हमसे DM द्वारा संपर्क करें.