मीराबाई चानू का स्वदेश पहुंचने पर जोरदार स्वागत, एयरपोर्ट पर लगे ‘भारत माता की जय’ के नारे- Video

 नई दिल्ली. टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रचने वालीं मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) सोमवार को स्वदेश पहुंच गईं. दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट पर उनका जोरदार स्वागत हुआ. एयरपोर्ट पर मौजूदा लोगों ने ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए. इसके अलावा अधिकारियों और स्टाफ ने खड़े होकर तालियां भी बजाईं. वह सुरक्षा घेर में एयरपोर्ट से बाहर निकलीं.


देश की स्टार वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने इतिहास रचते हुए टोक्यो ओलंपिक में रजत पदक जीता. उन्होंने वेटलिफ्टिंग में भारत को पहला सिल्वर मेडल दिलाया और टोक्यो ओलंपिक में भारत के पदकों का खाता भी खोला. मीराबाई चानू को इतिहास रचने पर पूरा देश बधाई दे रहा है. उन्हें बधाई देने वालों में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह जैसी दिग्गज हस्तियां शुमार रहीं.

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने भी मीराबाई चानू को बधाई दी है. बीसीसीआई ने एक वीडियो शेयर किया है जिसमें विराट ओलंपिक की जर्सी पहने नजर आ रहे हैं. उस पर इंडिया भी लिखा है. उन्होंने वीडियो में कहा, ”सारे देश की उम्मीदों का भार अपने कंधों पर उठा लिया, उन उम्मीदों को जीत में बदलने का हुनर खूब पता है मीराबाई चानू को. हमारे भारतीय एथलीटों को टोक्यो ओलंपिक में देखिए.’

 



इस बीच यह भी खबर आ रही है कि मणिपुर की 26 साल की इस वेटलिफ्टर के पदक का रंग भी बदल सकता है. यदि ऐसा होता है तो भारतीय खिलाड़ी के लिए यह सबसे बड़ी उपलब्धियों में से एक होगी. दरअसल, गोल्ड जीतने वालीं चीन की वेटलिफ्टर होउ जिहुई का डोप टेस्ट होगा. अगर वह विफल रहती हैं तो मीराबाई को रजत के बजाय स्वर्ण पदक मिल सकता है. होउ को टोक्यो में ही रुकने को कहा गया है.

मीराबाई ने शनिवार को टोक्यो में वेटलिफ्टिंग में देश के लिए पहला सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रचा. उन्होंने महिलाओं के 49 किग्रा वर्ग में कुल 202 किलो (स्नैच में 87 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 115 किग्रा) वजन उठाया. चीन की होउ जिहुई ने 210 किलोग्राम उठाकर गोल्ड मेडल जीता और नया ओलंपिक रिकॉर्ड बनाया.