बैंक में FD है तो आसानी से बनवा सकते हैं क्रेडिट कार्ड, जानिए इसके बड़े फायदे

 बैंक में सेविंक अकाउंट है, लेकिन उस पर आपको क्रेडिट कार्ड नहीं मिल पा रहा है? बैंकों के कई चक्कर लगा चुके, लेकिन बैंक क्रेडिट कार्ड देने पर राजी नहीं हो रहे. अगर ऐसा है तो परेशान न हों. आपने किसी बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट FD कराया है तो उस पर बड़ा फायदा ले सकते हैं. उस एफडी पर आप आसानी से क्रेडिट कार्ड निकलवा सकते हैं. यह काम आसानी से हो जाएगा और बैंक मना भी नहीं करेंगे. क्रेडिट कार्ड आपके खर्च के लिए सिर्फ सुविधा का साधन नहीं है बल्कि इससे आपका क्रेडिट स्कोर भी सुधरता है जिससे आप आगे चलकर बड़ा लोन ले सकते हैं.

आपको पता है कि FD पर आधारित क्रेडिट कार्ड भी जारी किया जाता है. यह पूरी तरह से सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड होता है. जो बैंक आपको क्रेडिट कार्ड जारी करेगा, वह एफडी के पैसे को कोलैटरल या सिक्योरिटी के रूप में दर्ज कर लेगा और उसी आधार पर आसानी से क्रेडिट कार्ड जारी कर देगा. चूंकि एफडी की न्यूनतम राशि 10,000-20,000 रुपये होती है, इसलिए इसी आधार पर आपका क्रेडिट कार्ड भी बनेगा. एफडी में जितनी राशि होगी, क्रेडिट कार्ड की लिमिट उतनी ही मिलेगी.

कार्ड बनवाने का प्रोसेस

ज्यादातर बैंक एफडी की राशि का 75-85 परसेंट तक क्रेडिट लिमिट के रूप में देते हैं. एक्सिस बैंक एफडी के अमाउंट का 80 परसेंट क्रेडिट कार्ड की लिमिट के रूप में देता है. कोई भी बैंक क्रेडिट कार्ड जारी करने के लिए कम से कम 6 महीने एफडी की अवधि देखता है. एक्सिस बैंक में यह अवधि 1 साल है. अगर आप क्रेडिट कार्ड का आउटस्टैंडिंग नहीं चुकाते हैं, तो बैंक एफडी की राशि से उसे काट लेगा. क्रेडिट कार्ड चूंकि एफडी से जुड़ा होता है, इसलिए इमरजेंसी में एफडी को रीडीम कराने से पहले कार्ड को कैंसिल कराना होगा. इसके बाद ही आप एफडी से पूरा पैसा निकाल सकेंगे.

FD पर मिलने वाले क्रेडिट कार्ड की खासियत

  • मिनिमम फिक्स डिपॉजिट अमाउंट 10,000-20,000 रुपये होने चाहिए, तभी क्रेडिट कार्ड जारी होगा
  • एफडी में जितनी राशि जमा होती है, उसका 75-85 परसेंट हिस्सा क्रेडिट लिमिट के रूप में मिलता है. एफडी में जितना ज्यादा पैसा जमा होगा, क्रेडिट लिमिट उतनी ज्यादा होगी
  • एफडी पर मिलने वाले क्रेडिट कार्ड को सिक्योर्ड कार्ड का दर्जा मिला है, इसलिए यह क्रेडिट कार्ड जारी करने के लिए कम से कम कागजी कार्यवाही होती है. कार्ड जारी के लिए कम से कम दस्तावेज मांगे जाते हैं
  • सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड पर ग्राहक को 48-55 दिन तक का इंटरेस्ट फ्री पीरियड मिलता है. अगर ग्राहक इस अवधि में बिल चुका देता है तो उसे ब्याज देने की जरूरत नहीं होगी. एक्सिस बैंक में यह पीरियड 50 दिन का है
  • जिस तरह के रिवॉर्ड और पॉइंट रेगुलर क्रेडिट कार्ड पर मिलता है, वैसी ही सुविधा सिक्योर्ड या एफडी पर मिलने वाले क्रेडिट कार्ड पर भी मिलती है. इस पर कैशबैक का ऑफर भी ले सकते हैं
  • कार्ड होल्डर को अपने फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज भी मिलता रहेगा और वह क्रेडिट कार्ड से खरीदारी का भी आनंद लेता रहेगा. एक तरह से यह डबल फायदा है

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड के फायदे

यह कार्ड लेने के लिए कस्टमर को इनकम प्रूफ देने की जरूरत नहीं होती. नौकरी-पेशा के अलावा होममेकर, स्टूडेंट और असंगठित क्षेत्र के लोग भी यह कार्ड बनवा सकते हैं. कुछ बैंक इस कार्ड को पाने के लिए न्यूनतम उम्र सीमा 18 साल रखते हैं, जबकि कुछ बैंक 21 साल रखते हैं. यह क्रेडिट कार्ड होने से आपकी क्रेडिट हिस्ट्री सुधरेगी क्योंकि समय पर इस कार्ड से बिल आदि का भुगतान कर सकेंगे. इससे क्रेडिट स्कोर सुधारने में मदद मिलेगी. अगली बार जब पर्सनल लोन, ऑटो लोन या होम लोन लेने जाएंगे तो क्रेडिट स्कोर का फायदा मिलेगा. एफडी पर लिए गए क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ाने में दिक्कत नहीं आती और बैंक यह काम आसानी से कर देते हैं.