MP Board 10th Result 2021: मध्य प्रदेश बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 14 जुलाई को हो सकता है घोषित, जानिए कैसे कर सकेंगे चेक

 MP Board 10th Result 2021: मध्य प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (MPBSE) की ओर से कक्षा 10वीं का रिजल्ट 14 जुलाई को जारी किया जा सकता है. कोरोना महामारी के चलते पहले स्थगित और फिर रदद् हुई मध्य प्रदेश कक्षा 10 की परीक्षाओं का रिजल्ट वैकल्पिक मूल्यांकन पद्धति से तैयार किया जाएगा. ऐसे में छात्रों को सलाह दी जाती है कि ऑफिशियल वेबसाइट- mpbse.nic.in पर नजर बनाएं रखें.

मध्य प्रदेश बोर्ड अधिकारियों के मुताबिक रिजल्ट इसी माह जारी कर दिया जाएगा. ऐसे में कुछ रिपोर्ट के अनुसार, मध्य 10वीं का रिजल्ट (MP Board 10th Result) 14 जुलाई को जारी होने की संभावना जताई जा रही है. हालांकि, बोर्ड की ओर से अभी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है. परीक्षा रद्द होने के बाद मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (MPBSE) कक्षा 10 के छात्रों के मूल्यांकन के संबंध में नोटिफिकेशन जारी चुका है.

जानिए कैसे कर सकेंगे चेक

  • रिजल्ट जारी होने के बाद सबसे पहले मध्य प्रदेश बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट- mpbse.nic.in पर जाना होगा.
  • यहां MP Board 10th Result के लिए एक्टिवेट की गई लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा.
  • अगले पेज पर अपना रोल नंबर दर्ज करके सबमिट पर क्लिक करना होगा.
  • क्लिक करते रिजल्ट खुल जाएगा.
  • अपना स्कोरकार्ड डाउनलोड करें और भविष्य के लिए प्रिंट लेकर रख लें.

ऐसे तैयार होगा रिजल्ट

कोरोना महामारी के चलते बाधित हुई परंपरागत पढ़ाई और फिर रद्द हुई बोर्ड परीक्षाओं के लिए वैकल्पिक मूल्यांकन पद्धति से रिजल्ट जारी की जाएगी. मध्य प्रदेश बोर्ड 10वीं रिजल्ट 2021 तो इस पद्धित के आधार पर तैयार किया गया है. मध्य प्रदेश बोर्ड द्वारा जारी ईवैल्यूएशन क्राइटेरिया के अनुसार रिजल्ट तैयार करने में उनके मिड टर्म एग्जाम, यूनिट टेस्ट और इंटर्नल एसेसमेंट के मार्क्स को जोड़कर रिजल्ट बनाया जा रहा है. इसमें 50% वेटेज प्री-बोर्ड के मार्क्स को, 30% वेटेज यूनिट टेस्ट और शेष 20% इंटरनल असेसमेंट को दिया जाएगा.

एडमिशन प्रोसेस शुरू

मध्य प्रदेश बोर्ड (MPBSE) ने अगले सेशन में ऑनलाइन एडमिशन के लिए आवेदन करने के साथ परीक्षा फॉर्म भरने की तारीख भी जारी कर दी है. एमपी बोर्ड़ से संबद्ध स्कूलों में 9वीं से 12वीं तक की कक्षाओं में प्रवेश प्रक्रिया 31 जुलाई तक पूरी करने के निर्देश दिए गए हैं.