सावन के महीने में सुहागिनों के लिए खास आलता डिजाइंस, एक बार जरुर देखें

Sawan 2021: सावन का महीना शुरू हो चुका है. इस महीने में सुहागनें खास तौर पर सजती हैं. हरी चूड़ियां पहनती हैं, पैरों में आलता लगाती हैं. इसीलिए हम आपके लिए लाए हैं बिल्कुल लेटेस्ट आलता डिजाइंस.

 

हरियाली का प्रतीक सावन महीना जीवन में खुशियां ले आता है. इस महीने में मेहंदी और आलता खास तौर पर लगाया जाता है.

 

आलता को महावर भी कहा जाता है. इसे सालों से लगाया जा रहा है. इसे सुहाग का प्रतीक माना गया है. पूजा-पाठ से पहले आज भी आलता लगाने की परंपरा कायम है.

 

हिंदू धर्म में आलता को सोलह श्रृंगार का महत्वपूर्ण अंग माना गया है. आलता का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है. ऐसा कहा गया है कि भगवान कृष्‍ण स्वयं अपने हाथों से राधा रानी जी के पैरों में आलता लगाया करते थे.

देखें आलता के नए डिजाइंस-

 

 

 

 

आलता को ऊंगली की सहायता से, छोटे ब्रश से, तीली में रुई लगाकर लगाया जाता है. आलता में गोल बिंदी का महत्व होता है. ऐसा डिजाइन जरूर बनाया जाता है.