IND vs SL: श्रीलंका टीम के लिए गुड न्यूज, आज से कर सकते हैं प्रैक्टिस

 नई दिल्ली. श्रीलंकाई खेमे से खुशी की खबर सामने आई है, क्योंकि उनकी पहली टीम को सोमवार से आर प्रेमदासा स्टेडियम (खेतरमा) में अपने अभ्यास सत्र को फिर से शुरू करने की अनुमति दे दी गई है. यह इजाजत प्रो. अर्जुन डी सिल्वा की अध्यक्षता वाली एसएलसी (SLC) चिकित्सा सलाहकार समिति से आई है. भारत के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज (India vs Sri Lanka) से पहले सीनियर खिलाड़ी कुसल परेरा, दुष्मंथा चमीरा और धनंजय डी सिल्वा सहित पूरी श्रीलंकाई टीम अपने ताजा आरटी-पीसीआर टेस्ट में नेगेटिव रही थी.


श्रीलंका के डेली एफटी के मुताबिक, श्रीलंका क्रिकेट सचिव मोहन डी सिल्वा ने कहा है कि उन्होंने सिनेमन ग्रांड होटल में जिम में प्रशिक्षण शुरू कर दिया है, लेकिन आज (12 जुलाई) से वे खेतारामा में अभ्यास शुरू करेंगे. हालांकि, श्रीलंकाई टीम को कोचों और सहयोगी स्टाफ द्वारा प्रशिक्षित नहीं किया जाएगा, जो अभी भी आइसोलेशन में हैं. बोर्ड अतिरिक्त सावधानी बरत रहा है, क्योंकि वे बल्लेबाजी कोच ग्रांट फ्लावर के संपर्क में थे, जो इंग्लैंड से लौटने के बाद कोविड-19 पॉजिटिव मिले थे.


श्रीलंका क्रिकेट सचिव ने कहा, ”वे कोचों और सहयोगी स्टाफ के साथ प्रशिक्षण नहीं लेंगे, क्योंकि बल्लेबाजी वे सभी कोच ग्रांट फ्लावर के संपर्क में थे, जो इंग्लैंड से लौटने के बाद कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए थे. खिलाड़ियों के साथ अभ्यास में शामिल करने के लिए कोच और सहयोगी स्टाफ 14 जुलाई को ही ज्वॉइन करेंगे. तबतक खिलाड़ियों को खुद ही प्रैक्टिस करनी होगी. कोचिंग स्टाफ उन्हें बताएगा कि क्या करना है.”

श्रीलंका क्रिकेट सचिव प्रो. डी सिल्वा ने आगे कहा कि वे वर्तमान में अधिक बार टेस्ट कर रहे हैं, जबकि वैसे प्रोटोकॉल के अनुसार लगभग हर तीन से पांच दिनों में खिलाड़ियों का टेस्ट करते हैं. अभ्यास शुरू करने वाली टीम भारत के खिलाफ सीरीज के लिए चुनी गई टीम है और इसमें अधिकांश खिलाड़ी शामिल हैं, जो हाल ही में इंग्लैंड के दौरे पर गए थे. सिल्वा ने दोहराया कि कैसे उनके बल्लेबाजी कोच फ्लावर वायरस की चपेट में आए, जो बाद में उनके डेटा विश्लेषक को भी हो गया.

प्रो. डी सिल्वा ने कहा, ”फ्लावर इंग्लैंड की टीम में कुछ लोगों के संपर्क में रहे हैं और इसी तरह वह इस खतरनाक वायरस की चपेट में आ गए. और इसके बाद वह निरोशन को हो गया. यही कारण है कि टीम और कोचिंग स्टाफ को आइसोलेशन में जाना पड़ा और भारतीय सीरीज के शुरू होने की तारीखों को भी पीछे खिसकाना पड़ा. फ्लावर के संक्रमण के कारण हमें पूरा दौरा कुछ दिनों के लिए स्थगित करना पड़ा. और दौरा लगभग रद्द हो गया था. यह एक बड़ी जिम्मेदारी है.”

 
एसएल सचिव ने दोहराया कि कैसे वे बायो बबल के उल्लंघन को रोकने के लिए अतिरिक्त कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ”यहां निश्चित रूप से उनके लिए चुपके से बाहर निकलना बहुत मुश्किल है, क्योंकि सेना के कमांडो उनकी रक्षा कर रहे हैं. जो इंग्लैंड में हुआ, वह यहां नहीं होगा. लेकिन मुझे लगता है कि हर किसी ने अपना सबक सीख लिया है और हम हमारे खिलाड़ी सही तरह से बर्ताव करेंगे.” श्रीलंका के तीन क्रिकेटरों कुसल मेंडिस, निरोशन डिकवेला और दनुष्का गुणाथिलाका के इंग्लैंड दौरे के दौरान बायो-बबल प्रोटोकॉल तोड़ने के बाद श्रीलंका क्रिकेट ने ऐसे कड़े कदम उठाए.