इंग्‍लैंड के दिग्‍गज तेज गेंदबाज ने की आत्‍महत्‍या, डेब्‍यू टेस्‍ट की पहली पारी में ही लिए थे आठ विकेट

 एक ऐसा क्रिकेटर जिसने अपने डेब्‍यू टेस्‍ट में ही एक पारी में आठ विकेट लेने का विश्‍व कीर्तिमान बनाया, ऐसा खिलाड़ी जिसके नाम छक्‍का मारकर लॉडर्स का पवेलियन पार करने का कारनामा दर्ज है, उसने आत्‍महत्‍या कर ली. बेशक अपने क्रिकेट करियर में भरपूर छाप छोड़ने वाला कोई खिलाड़ी जिंदगी को लेकर इस तरह का कायराना और भयानक कदम उठाए तो ये बात किसी को भी चौंका देगी. इंग्‍लैंड के इस दिग्‍गज क्रिकेटर ने ऐसा ही कदम उठाकर अपनी जिंदगी खत्‍म कर ली. इंग्‍लैंड के लंबे कद के क्रिकेटर अल्‍बर्ट ट्रॉट (Albert Trott) ने आज ही के दिन यानी 30 जुलाई 1914 को आखिरी सांस ली थी.

दरअसल, पांच टेस्‍ट मैच खेल चुके अल्‍बर्ट ट्रॉट क्रिकेट से संन्‍यास लेने के बाद लंबे समय तक गंभीर बीमारी से जूझते रहे. उन्‍हें दिल से जुड़ी बीमारी थी. साल 1914 में उन्‍होंने लॉंड्री टिकट पर अपनी वसीयत लिखी. अपनी मकानमालकिन के पास चार यूरो और वार्डरोब छोड़ा और लॉडर्स के पवेलियन को छक्‍का लगाकर पार करने के दिन की 15वीं सालगिरह से एक दिन पहले खुद को गोली मारकर जान दे दी. ट्रॉट उन चुनींदा क्रिकेटरों में शुमार रहे जिन्‍होंने दो देशों के लिए क्रिकेट खेला. अल्‍बर्ट ट्रॉट ऑस्‍ट्रेलिया (Australia Cricket Team) के साथ इंग्‍लैंड क्रिकेट टीम (England Cricket Team) का भी हिस्‍सा रहे.

10 हजार से ज्‍यादा रन और 1674 विकेट

दाएं हाथ के बल्‍लेबाज और दाएं हाथ से गेंदबाजी करने वाले अल्‍बर्ट ट्रॉट ने अपने करियर में पांच टेस्‍ट मैच खेले. इनमें 9 पारियों में तीन बार नाबाद रहते हुए उन्‍होंने 38 की औसत से 228 रन बनाए. उनके नाम दो अर्धशतक भी रहे. इन 5 टेस्‍ट में उन्‍होंने 26 विकेट हासिल किए और अपने डेब्‍यू टेस्‍ट में ही 43 रन देकर पारी में 8 विकेट लेने का कारनामा अंजाम दिया. तब डेब्‍यू में आठ विकेट लेने के वर्ल्‍ड रिकॉर्ड के तौर पर ये प्रदर्शन दर्ज हुआ. इसके अलावा उन्‍होंने 375 प्रथम श्रेणी मैच भी खेले. इनमें 19.48 की औसत से 10696 रन बनाए. इसमें आठ शतक उनके बल्‍ले से निकले तो 44 अर्धशतक लगाने में भी उन्‍हें कामयाबी मिली. 452 कैच भी उन्‍होंने अपने खाते में दर्ज कराए. ट्रॉट ने 375 प्रथम श्रेणी मुकाबलों में 1674 बल्‍लेबाजों को भी अपना शिकार बनाया. इस दौरान 42 रन देकर पारी में दस विकेट का करिश्‍मा भी उन्‍होंने अंजाम दिया.