बड़ी खबर: विराट कोहली के सबसे खास गेंदबाज ने लिया संन्यास, पाकिस्तान के खिलाफ खेला था T20 वर्ल्ड कप का फाइनल

 12 साल इंटरनेशनल क्रिकेट में सक्रिय रहने के बाद श्रीलंका के तेज गेंदबाज इसुरु उदाना (Isuru Udana) ने संन्यास का ऐलान कर दिया है. अब आप कहेंगे कि गेंदबाज श्रीलंका के तो फिर ये भारतीय क्रिकेट के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के चहेते कैसे हुए? तो इस बड़े सवाल का जवाब छिपा है इंडियन प्रीमियन लीग में. बाएं हाथ के तेज गेंदबाज इसुरु उदाना IPL में विराट कोहली की कमान वाली टीम RCB यानी रॉयल चैलेंजर बैंगलोर के लिए खेल चुके हैं. RCB ने श्रीलंकाई पेसर को साल 2020 में खुद से जोड़ा था और फिर IPL 2021 के लिए हुए मिनी ऑक्शन से पहले उन्हें रिलीज भी कर दिया था. इसुरु उदाना ने IPL का सिर्फ एक सीजन खेला, जिसमें उन्हें RCB के लिए 10 मैच खेले और इनमें 8 विकेट अपने नाम किए थे. तो बताइए हुए न उडाना कप्तान कोहली के खासम खास गेंदबाज.

बहरहाल, क्रिकेट के इंटरनेशनल पटल पर इसरु उडाना का आगमन साल 2009 में T20 क्रिकेट के रास्ते हुआ था. उन्होंने अपना पहला इंटरनेशनल मैच 2009 T20 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था. ICC के इस बड़े इवेंट में श्रीलंका ने 7 मैच खेले, जिसमें उडाना 5 में खेले. इन 5 मुकाबलों में एक मुकाबला पाकिस्तान के खिलाफ खेला फाइनल भी रहा, जो श्रीलंकाई टीम हार गई थी. उडाना ने अपने इंटरनेशनल करियर में कुल 45 T20 खेले जिसमें 27 विकेट चटकाए.

भारत के खिलाफ खेला पहला और आखिरी वनडे

भारत के खिलाफ खेली घरेलू T20 सीरीज इसरु उडाना के करियर की आखिरी इंटरनेशनल सीरीज रही. इस सीरीज के 2 मैचों में उन्होंने एक भी विकेट नहीं चटकाए. बाएं हाथ के श्रीलंकाई पेसर के वनडे करियर की शुरुआत और अंत दोनों ही भारत के खिलाफ हुए. उन्होंने साल 2012 में भारत के खिलाफ ही अपना वनडे डेब्यू किया और जुलाई 2021 में अपना आखिरी वनडे मैच भी भारत के खिलाफ खेला. भारत के खिलाफ खेली आखिरी वनडे सीरीज में भी उडाना ने कोई विकेट नहीं चटकाया. उनका वनडे करियर 21 मैचों का गवाह बना, जिसमें 33 साल के गेंदबाज ने 18 विकेट चटकाए.

श्रीलंका के लिए वनडे वर्ल्ड कप और T20 वर्ल्ड कप में शिरकत कर चुके इसरु उडाना अपने करियर के आखिरी दिनों में इंजरी और खराब फॉर्म से काफी परेशान रहे, जो कि इंटरनेशनल क्रिकेट से उनके रिटायर होने की एक बड़ी वजह बना.