आज से ICICI Bank ने एटीएम कैश विड्रॉल समेत इनके बढ़ाएं चार्जेस, जानिए आपकी जेब पर कितना पड़ेगा असर

 आईसीआईसीआई बैंक ने आज (1 अगस्त) से एटीएम, चेक बुक और अन्य वित्तीय लेनदेन के लिए कैश विड्रॉल में लिए जाने वाले चार्जेस में संशोधन किया है. अब आपको कैश निकासी पर पहले के मुकाबले थोड़ा ज्यादा शुल्क चुकाना होगा. संशोधित शुल्क वेतन खातों समेत घरेलू बचत खाताधारकों के लिए लागू होंगे.

आईसीआईसीआई बैंक की वेबसाइट के अनुसार एक महीने में 6 मेट्रो स्थानों (मुंबई, नई दिल्ली, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु और हैदराबाद) में पहले 3 एटीएम लेनदेन (वित्तीय और गैर-वित्तीय सहित) प्राप्त होंगे. अन्य सभी स्थानों पर, पहले पांच लेनदेन निःशुल्क होंगे. इसके बाद, बैंक 20 रुपए प्रति वित्तीय लेनदेन और .8.50 रुपए प्रति गैर-वित्तीय लेनदेन चार्ज करेगा. ये शुल्क सिल्वर, गोल्ड, मैग्नम, टाइटेनियम और वेल्थ कार्डधारकों के लिए लागू होंगे.

निजी ऋणदाता को प्रति माह कुल 4 मुफ्त नकद लेनदेन की अनुमति दी गई है. बैंक की वेबसाइट के अनुसार, निशुल्क सीमा से अधिक शुल्क ₹150 प्रति लेनदेन होगा.

होम ब्रांच और दूसरी शाखा में नकद लेनदेन की सीमा

1 अगस्त से आईसीआईसीआई बैंक के ग्राहकों के लिए होम ब्रांच नकद सीमा 1 लाख प्रति माह होगी. वहीं 1 लाख से ऊपर दूसरी शाखा से​ निकालने पर 5 रुपए प्रति 1,000, न्यूनतम 150 रुपए चुकाने होंगे.

दूसरी शाखा में प्रतिदिन 25,000 रुपए तक के नकद लेनदेन के लिए कोई शुल्क नहीं लगेगा. वहीं 25,000 से ऊपर पर 5 रुपए प्रति 1,000 लगेगा. न्यूनतम शुल्क 150 रुपए होगा.

तीसरे पक्ष के लेनदेन के लिए सीमा 25,000 रुपए प्रति दिन निर्धारित की गई है. इतने लेन-देन की सीमा तक 150 रुपए प्रति लेन-देन शुल्क चुकाना होगा. निधार्रित सीमा से अधिक, नकद लेनदेन की अनुमति नहीं है.

चेक बुक पर भी लगेगा चार्ज

एक साल में 25 पन्नों वाले चेकबुक के लिए शुल्क शून्य होगा. जबकि निशुल्क सीमा से ऊपर, बैंक 10 पत्तों की प्रत्येक अतिरिक्त चेक बुक के लिए 20 रुपए चार्ज करेगा.