IND vs ENG: 5 टेस्ट मैच की सीरीज में 5 बड़े रिकॉर्ड तोड़कर मचाएंगे खलबली! इंग्लैंड में छाएंगे विराट कोहली

 वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जो हुआ, उसे भूलाकर अब बारी है नए मिशन को अंजाम देने की. इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट मैचों की सीरीज में धावा बोलने का, जिसकी शुरुआत 4 अगस्त से हो रही है. इस टेस्ट सीरीज के शुरू होते ही भारतीय कप्तान विराट कोहली भी शुरू हो जाएंगे. न सिर्फ रन बनाने और जीत का रास्ता तलाशने बल्कि ऐसा करते हुए नए रिकॉर्डों की झड़ी लगाने भी. इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट मैचों की सीरीज में भारतीय कप्तान 5 बड़े रिकॉर्डों की बलि चढ़ाने के बेहद करीब हैं.टेस्ट क्रिकेट में 8000 रन बनाने से कप्तान विराट कोहली 453 रन दूर है, जिसे वो इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट की सीरीज में बड़े आराम से हासिल कर सकते हैं. फिलहाल, उनके नाम 92 टेस्ट में 7547 रन हैं, जो कि उन्होंने 27 शतक और 25 अर्धशतक के दम पर बनाए हैं. विराट अगर इंग्लैंड से सीरीज में 8000 रन पूरे करते हैं तो वो टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन के मामले में जस्टिन लैंगर (7696), इयान बेल (7727) और माइकल अर्थटन (7728) को पीछे छोड़ देंगे.

इंग्लैंड के खिलाफ 2000 टेस्ट रन पूरे करने से विराट कोहली 211 रन दूर हैं. अगर वो अपकमिंग टेस्ट सीरीज में ये कमाल कर लेंगे तो राहुल द्रविड़ के 1950 रनों की संख्या को पीछे छोड़ गावस्कर और सचिन के क्लब में शामिल हो जाएंगे.विराट कोहली के पास मौका होगा टेस्ट में सर्वाधिक अर्धशतक लगाने वाले टॉप 5 भारतीय बल्लेबाजों में शुमार होने का. फिलहाल, वो छठे पायदान पर हैं. लेकिन अगर वो 3 अर्धशतक जमाते हैं तो सचिन, द्रविड़, गावस्कर और लक्ष्मण के क्लब में शामिल हो जाएंगे. 

टेस्ट क्रिकेट में फिलहाल सर्वाधिक शतक लगाने के मामले में विराट कोहली स्टीव स्मिथ के साथ बराबरी पर हैं. दोनों के 27 शतक हैं. लेकिन अगर विराट इंटरनेशनल क्रिकेट में नवंबर 2019 से चले आ रहे अपने शतक के सूखे को खत्म करते हैं तो वो न सिर्फ स्मिथ को पछाड़कर अमला और माइकल क्लार्क के 28 शतकों की बराबरी कर लेंगे. बल्कि सीरीज में अपना दूसरा शतक ठोककर उनके पास इन खिलाड़ियों को भी पीछे छोड़ने का मौका होगा. विराट कोहली के पास कप्तानी में सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने के मामले में वेस्ट इंडीज के क्लाइव लॉयड को भी पीछे छोड़ने का मौका होगा. इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में पहली टेस्ट जीत के साथ ही विराट ये कमाल कर देंगे. फिलहाल दोनों ने 36-36 टेस्ट जीते हैं. लॉयड ने ये कमाल 74 मैचों में किया था जबकि विराट ने 61 मुकाबलों में ये कमाल किया है.