TOP 10 Sports News : महिला हॉकी टीम टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में, मयंक अग्रवाल पहले टेस्ट से बाहर

 नई दिल्ली. भारत की महिला हॉकी टीम ने इतिहास रचते हुए टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) के सेमीफाइनल में जगह बना ली. उसने क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया जैसी दिग्गज टीम को 1-0 से मात दी. वहीं, भारतीय ओपनर मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के पहले मैच में नहीं खेलेंगे, जिसकी पुष्टि बीसीसीआई ने कर दी है. मयंक प्रैक्टिस के दौरान चोटिल हो गए और पेसर मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) की बाउंसर सीधे उनके सिर पर लगी.


इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया की मुसीबतें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. भारत के एक और खिलाड़ी को नॉटिंघम टेस्ट से पहले चोट लग गई है. सोमवार को ओपनिंग बल्लेबाज मयंक अग्रवाल प्रैक्टिस के दौरान चोटिल हो गए. मयंक नेट्स पर बल्लेबाजी के दौरान चोट खा बैठे. तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज की तेज रफ्तार बाउंसर सीधे मयंक के सिर पर लगी और वह जमीन पर गिर पड़े. इसके बाद उन्हें बाहर ले जाया गया. मयंक अग्रवाल अब पहले टेस्ट में नहीं खेलेंगे. बीसीसीआई ने इसकी पुष्टि कर दी है.
भारतीय महिला हॉकी टीम ने ओलंपिक में इतिहास रच दिया और पहली बार सेमीफाइनल में जगह बनाई. भारत ने क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हराया. महिला टीम सिर्फ तीसरी बार ओलंपिक में उतर रही है. 2016 रियो ओलंपिक में टीम 12वें नंबर पर रही थी. इसके अलावा 1980 में टीम चौथे नंबर पर रही थी. हालांकि उस समय सेमीफाइनल के मुकाबले नहीं थे. पूल मैचों के प्रदर्शन के आधार पर टॉप-3 टीमें तय हुई थीं. इससे पहले भारतीय पुरुष टीम ने भी सेमीफाइनल में पहुंचकर मेडल की उम्मीद बरकरार रखी हैं.
भारत की डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर ने टोक्यो ओलंपिक में अपने इवेंट के फाइनल में पहुंचकर इतिहास रचा लेकिन वह मेडल से चूक गईं. अमेरिका की वैलेरी ऑलमन ने बाजी मारी, जिन्होंने अपने पहले ही प्रयास में 68.98 दूर चक्का फेंका. इस तरह एथलेटिक्स में ओलंपिक पदक जीतने का भारत का सपना एक बार फिर टूट गया. सिल्वर मेडल जर्मनी की क्रिस्टिन पुडेन्ज ने अपने नाम किया, जिन्होंने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 66.86 मीटर दूर चक्का फेंका. ब्रॉन्ज मेडल क्यूबा की यैमी पेरेज ने अपने नाम किया जिन्होंने अपने पहले ही प्रयास में 65.72 की दूरी तय की.
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जीतने के लिए ‘बहुत ज्यादा कोशिश’ और पूरी तरह से श्रेष्ठता हासिल करने पर ध्यान देना जरूरी है. कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम जो रूट की कप्तानी वाली इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगी जिसका आगाज बुधवार को पहले टेस्ट से होगा. विराट ने सीरीज से पहले स्काई स्पोर्ट्स के लिए कमेंट्री कर रहे दिनेश कार्तिक से बातचीत की. विराट कोहली ने भारतीय विकेटकीपर दिनेश कार्तिक के सवाल पर ‘स्काई स्पोर्ट्स’ कहा, ‘5 टेस्ट मैचों की सीरीज में हमें हर दिन अथक प्रयास के साथ श्रेष्ठता हासिल करने पर ध्यान देना जारी रखना होगा. यहां आपको खुद से यह कहना होगा कि आप कड़ी मेहनत करना चाहते हैं और ऐसी परिस्थितियों का सामना करना चाहते हैं जो हर दिन हर टेस्ट मैच में कठिन होती हैं.’
भारतीय महिला हॉकी टीम पहली बार ओलंपिक खेलों के सेमीफाइनल में पहुंची है. इस जीत में भारतीय खिलाड़ियों की तारीफ के साथ-साथ टीम के मुख्य कोच शोर्ड मारिन की भी खूब प्रशंसा हो रही है. सोशल मीडिया पर कोच मारिन और बॉलीवुड फिल्म ‘चक दे’ में शाहरुख खान के किरदार कबीर खान से जमकर तुलना भी की जा रही है. मारिन को सोशल मीडिया पर बॉलीवुड के ‘किंग खान’ ने बधाई देते हुए एक ट्वीट किया, लेकिन इस रियल लाइफ कोच ने शाहरुख खान को ही ट्रोल कर दिया.
इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने 19 सितंबर से शुरू हो रहे IPL-2021 के दूसरे चरण में अपने खिलाड़ियों को भेजने का फैसला किया है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इंग्लैंड के सभी खिलाड़ी इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगे. इससे पहले ईसीबी ने कहा था कि वो टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) से पहले अपने खिलाड़ियों को आईपीएल की जगह अपने देश के लिए मैदान पर उतारेंगे. अगर कोई खिलाड़ी आराम भी करेगा तो उसे आईपीएल में खेलने की इजाजत नहीं मिलेगी लेकिन अब इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने यू-टर्न ले लिया है. बता दें आईपीएल 2021 को 29 मैचों के बाद ही कोरोना वायरस के चलते स्थगित करना पड़ा था. अब बचे हुए मैचों का आयोजन यूएई में होगा.
इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने अपने दोस्त और स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स के बारे में कहा कि उन्होंने हमेशा टीम को सर्वोपरि रखा है. रूट ने कहा कि अब समय है कि वह (बेन स्टोक्स) खुद को तरजीह दें. स्टोक्स ने मानसिक स्वास्थ्य कारणों से खेल से ब्रेक लिया है. वह भारत के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में भी नहीं खेलेंगे. इस सीरीज का पहला मैच नॉटिंघम में 4 अगस्त से खेला जाना है. स्टोक्स को टीम की धड़कन बताते हुए रूट ने कहा कि भारत के खिलाफ बुधवार से शुरू हो रही सीरीज में उनकी कमी खलेगी लेकिन जिस दौर से वह गुजर रहे हैं, उसमें क्रिकेट गौण है. रूट ने कहा, ‘जाहिर तौर से उनकी कमी खलेगी लेकिन वह अलग दौर से गुजर रहे हैं. उन्होंने मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े कारणों के चलते क्रिकेट से ब्रेक लिया है.’
भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीतने के बाद मुख्य नेशनल कोच पुलेला गोपीचंद ने उन्हें बधाई संदेश दिया जबकि सीनियर खिलाड़ी साइना नेहवाल से उन्हें बधाई नहीं मिली. पूर्व वर्ल्ड चैंपियन सिंधु रविवार को दो व्यक्तिगत ओलंपिक पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय और देश ही पहली महिला खिलाड़ी बनीं. उन्होंने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीता था. पीटीआई के अनुसार, सिंधु से यह पूछने पर कि क्या पदक जीतने के बाद गोपीचंद और साइना नेहवान ने उनसे बात की, उन्होंने कहा, ‘बेशक गोपी सर ने मुझे बधाई दी. मैंने अब तक सोशल मीडिया नहीं देखा है. मैं धीरे-धीरे सभी को जवाब दे रही हूं.’ विस्तार से पूछे जाने पर पीवी सिंधु ने कहा, ‘गोपी सर ने मुझे संदेश भेजा. साइना ने नहीं. हम काफी बात नहीं करते.’
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने के बाद पेसर मोहम्मद सिराज इंग्लैंड की चुनौती के लिए तैयार हैं. भारत और इंग्लैंड के बीच 4 अगस्त से पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जानी है. इसे लेकर सिराज ने भरोसा जताया कि जिस तरह ऑस्ट्रेलिया को भारत ने हराया, उसी तरह इंग्लैंड को भी मात देगा. भारत ने खेल के सबसे लंबे फॉर्मेट में पिछले कुछ महीनों में अच्छा प्रदर्शन किया है. भले ही उसे वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल (WTC Final) में हार झेलनी पड़ी लेकिन उसका ओवरऑल प्रदर्शन टेस्ट में अच्छा रहा है. टेस्ट में कुछ प्रतिभाओं को डेब्यू का भी मौका मिला जिनमें से एक भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज भी हैं. अभी तक उन्होंने केवल पांच टेस्ट मैच खेले हैं और कुल 16 विकेट हासिल किए है. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही टेस्ट डेब्यू किया और खुद को अपनी पहली ही टेस्ट सीरीज में साबित किया.
बेलारूस की महिला धाविका क्रिस्टिना सिमनौस्‍काया टोक्‍यो ओलंपिक से अपने देश नहीं लौटना चाहती हैं. खबरों के अनुसार, वह जर्मनी या ऑस्ट्रिया से शरण मांगने वाली हैं. दरअसल उन्‍हें अपने घर लौटने में डर लग रहा है. इसी वज‍ह से एयरपोर्ट पर उन्‍होंने दिमाग चलाकर खुद को उड़ान भरने से रोक लिया. दरअसल क्रिस्टिना को महिलाओं की 200 मीटर रेस में हिस्‍सा लेना था, मगर रेस से पहले ही उन्‍हें सामान पैक करके घर लौटने के लिए कहा गया और एयरपोर्ट ले जाया गया, जहां उन्‍होंने जापान पुलिस से सुरक्षा की मांग करके खुद को रोक लिया. उन्‍होंने शॉर्ट नोटिस में दूसरी दौड़ में शामिल किए जाने को लेकर शिकायत की थी.